टेबल टेनिस: एशियन चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे भारतीय बने साथियान - asian championship ke quarter final me pahuchne wale dusre bhartiya bane Sathiyan Gnanasekaran DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टेबल टेनिस: एशियन चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले दूसरे भारतीय बने साथियान

गुणासेकरन साथियान शुक्रवार को यहां जारी एशियन टेबल टेनिस चैम्पियनशिप में पुरुषों के एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। वह ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं।

sathiyan gnanasekaran  afp

गुणासेकरन साथियान शुक्रवार को यहां जारी एशियन टेबल टेनिस चैम्पियनशिप में पुरुषों के एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। वह ऐसा करने वाले दूसरे भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। साथियान ने 24वें आईटीटीएफ-एटीटीयू एशियन टेबल टेनिस चैम्पियनशिप में उत्तर कोरिया के अन-जी सोंगे को मात देकर यह कीर्तिमान स्थापित किया। इससे पहले, 1976 में सुधीर फडके एकल वर्ग में एशियन चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने थे। उन्होंने चीन के खिलाड़ी को प्री-क्वार्टर फाइनल में मात दी थी। 

साथियान ने उत्तर कोरिया के खिलाड़ी को 22 मिनट के अंदर ही 11-7, 11-8, 11-6 से पराजित किया। वर्ल्ड रैंकिंग में 30वें पायदान पर काबिज साथियान का सामना क्वार्टर फाइनल में वर्ल्ड नंबर-4 चीन के लिन गाओयुआन के खिलाफ होगा। 

HOCKEY: बेल्जियम दौरे के लिए रूपिंदर पाल सिंह और ललित उपाध्याय की भारतीय टीम में वापसी

साथियान ने मैच जीतने के बाद कहा, “पहली बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचने पर बेहद खुशी हुई और यह अब तक का सफर शानदार रहा है। मैं वास्तव में भारतीय टेबल टेनिस के लिए नया लेवल सेट करना पसंद करूंगा और टूर्नामेंट में आगे भी अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार हूं।” क्वार्टर फाइनल में अपनी रणनीति के बारे में उन्होंने कहा, ''मैं जीत के उद्देश्य से उतरूंगा और अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करूंगा। मैं अंडरडॉग हूं और सारा दबाव गाओयुवान पर होगा।''

पुरुष एकल में साथियान ने शुरू में सिंगापुर के कोह डोमिनिक सोंग जुन को 11-6, 11-4, 11-5 से और फिर ईरान के नोशाद अलामियां को 8-11, 11-7, 11-6, 11-5 से हराया। पुरुष युगल में साथियान और अचंता शरत कमल की जोड़ी हालांकि पदक दौर में पहुंचने में नाकाम रही। उन्हें चीन के लियांग जिंगकुन और लिन गाओयुवान से 6-11, 12-10, 7-11, 11-8, 7-11 से हार झेलनी पड़ी। 

एकल में शरत और हरमीत देसाई पहले दौर से आगे नहीं बढ़ पाये। साथियान के अलावा एंथनी अमलराज और मानव ठक्कर ही अगले दौर में जगह बना पाये। इसके आगे केवल साथियान ही प्री क्वार्टर फाइनल में पहुंच पाये थे। अमलराज को ताइपै के चेन चिन अन से 6-11, 8-11, 8-11 से जबकि मानव को ताइपै के एक अन्य खिलाड़ी लियो चेंग टिंग से 9-11, 6-11, 3-11 से हार का सामना करना पड़ा। 

विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप 2019: बजरंग पुनिया के बाद रवि दहिया ने भी जीता कांस्य पदक

शरत को जापान के ताकुया जिन ने 11-4, 5-11, 11-7, 6-11, 12-14 से जबकि हरमीत देसाई को कोरिया के यांग वूजिन ने 7-11, 11-2, 11-5, 11-5 से हराया। 

महिला खिलाड़ियों में केवल आयहिका ही प्री क्वार्टर फाइनल में पहुंच पाई, जहां उन्हें तीन बार की विश्व चैंपियन और मौजूदा ओलंपिक चैंपियन चीन की डिंग निंग से 5-11, 13-11, 4-11, 9-11 से हार झेलनी पड़ी। मनिका बत्रा को राउंड 32 में ही जापान की हितोमी सातो से 9-11, 8-11, 4-11 से और अर्चना को सिंगापुर की फेंग तियानवेइ से 9-11, 9-11, 11-9, 4-11 से पराजय मिली। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:asian championship ke quarter final me pahuchne wale dusre bhartiya bane Sathiyan Gnanasekaran