फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ खेलओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा के सम्मान में हर साल 7 अगस्त को ये काम करेगा AFI

ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा के सम्मान में हर साल 7 अगस्त को ये काम करेगा AFI

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने टोक्यो ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा के सम्मान में एक और बड़ा कदम उठाया है। नीरज ने सात अगस्त को ही टोक्यो ओलंपिक 2020 में एथलेटिक्स में भारत को...

ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा के सम्मान में हर साल 7 अगस्त को ये काम करेगा AFI
Ezaz Ahmad लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली Tue, 10 Aug 2021 02:42 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने टोक्यो ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा के सम्मान में एक और बड़ा कदम उठाया है। नीरज ने सात अगस्त को ही टोक्यो ओलंपिक 2020 में एथलेटिक्स में भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाया है और उसके बाद से देश में हर तरफ उनका सम्मान हो रहा है। ऐसे में एएफआई ने नीरज के सम्मान में देश में हर साल सात अगस्त को ही भाला फेंक टूर्नामेंट आयोजित कराने का फैसला किया है। एएफआई ने यह फैसला नीरज को सम्मानित करने के लिए आयोजित किए गए एक सम्मान समारोह के दौरान किया। 

नीरज चोपड़ा का खुलासा, गोल्ड जीतने के अगले दिन शरीर दुख रहा था, लेकिन कोई समस्या नहीं थी

इंडिया टूडे की रिपोर्ट के मुताबिक, एएफआई ने नीरज समेत उन सभी खिलाड़ियों का सम्मान किया, जिन्होंने टोक्यो ओलिंपिक में एथलेटिक्स में भारत का प्रतिनिधित्व किया है। मंगलवार को आयोजित इस सम्मान समारोह में एएफएआई के चेयरमैन ललिट भनोट भी मौजूदा थे और उन्होंने ही नीरज के सम्मान में देश में हर साल सात अगस्त को भाला फेंक टूर्नामेंट आयोजित कराने का फैसला किया। उन्होंने कहा, ' एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया की योजना समिति ने भाला फेंकने को बढ़ावा देने का फैसला किया है और हर साल 7 अगस्त को पूरे देश में प्रतियोगिताओं का आयोजन करेगी क्योंकि नीरज चोपड़ा ने इस दिन टोक्यो में स्वर्ण पदक जीता था।' 

पीएम की दावत में मिलेगा गोलगप्पा और चूरमा, ओलंपिक चैंपियनों के स्वागत समारोह में खेलमंत्री ने नीरज चोपड़ा से किया वादा

टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर नीरज ने इतिहास रच दिया है। वह अब ओलंपिक खेलों में व्यक्तिगत स्पर्धाओं में गोल्ड मेडल जीतने वाले दूसरे भारतीय बन गए हैं। उनसे पहले अभिनव बिंद्रा ने 2008 बीजिंग ओलंपिक में 10 मीटर एयर राइफल इवेंट में गोल्ड मेडल जीता था। चोपड़ा ने 2018 में एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में गोल्ड मेडल जीता था। लेकिन हाथ में चोट लगने के कारण और कोविड-19 महामारी के कारण वह लगभग दो वर्षों तक खेलों से दूर रहे थे।

epaper