DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उड़ने के लिए तैयार - वे बिजनेस पाठ्यक्रम जो उद्योग आधारित प्रोफेशनल बन

प्रतिष्ठित शिक्षाविदों और कई समाजसेवी लोगों के एक समूह द्वारा वर्ष 1994 में स्थापित, एआईएमएस की स्थापना गुणवत्ता शिक्षा प्रदान करने और शिक्षण और अध्यापन के क्षेत्रों में क्षितिज का विस्तार करने के...

जब भाइयों ने अपने पिता का नाम अलग-अलग लिखा

पप्पू और फेकू दोनों भाई एक ही क्लास में पढ़ते थे।

टीचरः तुम दोनों ने अपने पापा का नाम अलग-अलग क्यों लिखा।

पप्पूः मैडम, फिर आप कहोगी कि नकल मारी है, इसलिए...

छिपकली की लगी बोली, जानें क्यों

एक छिपकली की नीलामी हो रही थी...

पहली बोली थी- दस लाख
दूसरी बोली थी- पचास लाख
तीसरी बोली थी- एक करोड़

इतने में जज साहब बोल पड़े
इस छिपकली में ऐसी क्या बात है, जो लोग इतनी ऊंची बोली लगा रहे हैं।
तभी किसी ने कहा- जज साहब, इस छिपकली से बीवी डरती है...

जज- अच्छा, 2 करोड़ की बोली मेरी तरफ से...

  • मेरी बेटी सांवली है लेकिन वह दुनिया की सबसे खूबसूरत लड़की है : शाहरूख

  • दबिश के नाम पर पुलिस की गुंडई, भीड़ का हंगामा

  • मेरठ-करनाल हाईवे पर 550 करोड़ से बनेंगे 15 ओवरब्रिज-अंडरपास

  • चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय होगा जीरो वेस्ट परिसरः कमिश्नर

  • जहर देकर सैकड़ों पशुओं को मारने वाले दो युवक सीसीटीवी से पकड़े

  • क्राइम ब्रांच पर सलारपुर में फायरिंग और पथराव, कुत्ते भी छोड़े

  • Chhath Puja 2018: छठ पूजा का आखिरी अर्घ्य आज सुबह, जानिए छठी मइया को अर्घ्य देने का शुभ मुहूर्त

  • दून के घंटाघर पर मेरठ के सर्राफ से 15 लाख के गहने लूटे

  • इस बार मैं लडूंगा लोकसभा चुना, सीट अभी तय नहीं : भड़ाना

  • समस्‍या के समाधान को पांच दिन खुलेगा सेंटर