ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानअशोक गहलोत ‘घोषणाजीवी’, 5 राज्यों के चुनाव परिणाम पर यह बोले BJP के राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह

अशोक गहलोत ‘घोषणाजीवी’, 5 राज्यों के चुनाव परिणाम पर यह बोले BJP के राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ एंटी इनकम्बैंसी काफी ज्यादा है। यह बात भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह ने कही। उन्होंने कहाकि कल पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के...

अशोक गहलोत ‘घोषणाजीवी’, 5 राज्यों के चुनाव परिणाम पर यह बोले BJP के राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह
Deepakसचिन सैनी,जयपुरWed, 09 Mar 2022 07:02 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ एंटी इनकम्बैंसी काफी ज्यादा है। यह बात भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और राजस्थान प्रभारी अरुण सिंह ने कही। उन्होंने कहाकि कल पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद यह एंटी इनकम्बैंसी और तेज होगी। उन्होंने कहाकि गहलोत सरकार की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी और इसका जाना तय है। वहीं उन्होंने कल आ रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव परिणामों में चार में जीत का दावा किया।

राजस्थान में चल रहा जंगलराज
अरुण सिंह ने अशोक गहलोत को ‘घोषणाजीवी’ की संज्ञा देते हुए कहाकि वह आए दिन कुछ न कुछ घोषणा करते रहते हैं। कोई नहीं जानता कि उनके वादे कैसे पूरे होंगे और इन घोषणाओं को पूरा करने के लिए फंड कहां से आएंगे। इस सरकार ने 60 हजार से ज्यादा नौकरियां नहीं दी हैं और वह 2.5 लाख लोगों को नौकरी देने की बात कह रही है। सिंह ने कहाकि गहलोत सरकार झूठी घोषणाओं के आधार पर बनी थी और वादे आज तक पूरे नहीं किए गए। अरुण सिंह ने अन्य भाजपा शासित राज्यों से राजस्थान की तुलना की। उन्होंने कहाकि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था का राज है, वहीं राजस्थान में जंगलराज चल रहा है। उन्होंने कहाकि अगर गहलोत शासन की उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड से तुलना की जाए तो उसे पासिंग मार्क्स भी नहीं मिलेंगे। 

कांग्रेस को यूपी में मिलेंगी पांच सीटें
जब अरुण सिंह से कल घोषित हो रहे पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के रिजल्ट के बारे में बात की गई तो उन्होंने कहाकि उन्हें चार राज्यों में जीत का पूरा विश्वास है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस को उत्तर प्रदेश में पांच सीटें भी नहीं मिलेंगी क्योंकि यह लोग केवल समाज कल्याण का काम नहीं करते, बल्कि राजनीति से प्रेरित होकर काम करते हैं। बकौल अरुण सिंह, ‘भाजपा पांच में से चार राज्यों में चुनाव जीतेगी। पार्टी उत्तर प्रदेश में 300 से ज्यादा सीटें जीत रही है और पंजाब में भी हमारा वोट शेयर बढ़ेगा। ’

वसुंधरा को बड़ा संदेश
इस दौरान अरुण सिंह से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया द्वारा जन्मदिन पर शक्ति प्रदर्शन के बारे में भी सवाल पूछा गया। इस पर उन्होंने कहाकि किसी के द्वारा जन्मदिन मनाए जाने पर आपत्ति नहीं है। लेकिन लोगों को इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि पार्टी ही सुप्रीम है। हर किसी को इस बात का ख्याल रखना चाहिए कि कोई भी नेता पार्टी के बाद ही आता है। उन्होंने कहाकि देश में हमारे नेता नरेंद्र मोदी और अमित शाह हैं। वहीं जेपी नड्डा और राजनाथ सिंह शीर्ष नेताओं में हैं। उन्होंने कहाकि लोगों को यह भी ध्यान रखना चाहिए कि वह पार्टी के कार्यक्रमों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लें। 

राजे समर्थकों का बयान नोट कर रहे
राजे समर्थकों द्वारा जारी बयानों पर सिंह ने कहाकि हम इन बयानों को नोट कर रहे हैं। पार्टी को कमजोर करने का प्रयास करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। ऐसे लोगों को दूसरा मौका नहीं दिया जाएगा। राजे समर्थकों द्वारा उन्हें मुख्यमंत्री के चेहरे के रूप में प्रोजेक्ट करने की मांग पर भी अरुण सिंह बोले। उन्होंने कहाकि ऐसी कोई मांग नहीं है। वैसे भी इस तरह के फैसले पार्टी के संसदीय बोर्ड द्वारा लिए जाते हैं। कार्यकर्ताओं को इस तरह का फैसला नहीं करना चाहिए। ऐसा करना उनके नेता के लिए नुकसानदेह हो सकता है। 

पुरानी पेंशन लागू करने पर तारीफ
इस बीच उन्होंने सरकार द्वारा पुरानी पेंशन लागू किए जाने की घोषणा का स्वागत किया। इस दौरान उनसे भाजपा शासित राज्यों में इस संबंध में उठ रही मांग के बारे में सवाल किया गया। इस पर अरुण सिंह का कहना था कि यह एक प्रासंगिक स्कीम है, लेकिन उपलब्ध सूत्रों के आधार पर ही इस संबंध में फैसला लिया जाएगा और प्रोविजन बनेगा। वहीं इस पर टिप्पणी करते हुए कांग्रेस मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि अरुण सिंह हमेशा बेसिर पैर की टिप्पणी करते हैं। जब चुनाव के दौरान उन्होंने ऐसी टिप्पणियां की थीं तो जमानत जब्त करा बैठे थे। उन्होंने कहाकि राज्य सरकार के बजट से लोगों के चेहरे पर मुस्कान आई है और राज्य के लोग इसकी तारीफ कर रहे हैं।

epaper