DA Image
Sunday, November 28, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानशादी के बाद प्रेमी के साथ रह रही थी पत्नी, नाराज पति ने उठाया ये जानलेवा कदम

शादी के बाद प्रेमी के साथ रह रही थी पत्नी, नाराज पति ने उठाया ये जानलेवा कदम

जयपुर, लाइव हिंदुस्तानManish Sharma
Wed, 27 Oct 2021 06:59 PM
शादी के बाद प्रेमी के साथ रह रही थी पत्नी, नाराज पति ने उठाया ये जानलेवा कदम

छह साल पहले वह उसके संपर्क में आया और दोनों ने 2020 में शादी कर ली। शादी के बाद कुछ अनबन होने पर पत्नी अपने पति को छोड़कर प्रेमी के साथ रहने लगी। इस बात की भनक जैसे ही पति को लगी, उसने पत्नी का पीछा किया और जयपुर में उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

जयपुर पुलिस कमिश्नरेट की टीम ने आज सांगानेर थाना इलाके में दिनदहाड़े हुई हत्या का पर्दाफाश किया है। पुलिस उपायुक्त जयपुर पूर्व प्रहलाद सिंह कृष्णियां ने बताया कि बिहार निवासी कामिनी ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसमें बताया गया था कि नौकरी की तलाश में 7 दिन पहले ही वह अपनी सहेली जोया आसिफ मलिक के साथ दिल्ली से जयपुर आई थी। यहां टोंक रोड सांगानेर पर एक चाय की दुकान पर जैसे ही दोनों चाय पीकर निकले, एक अज्ञात व्यक्ति ने मुंह पर मास्क लगाकर सहेली जोया आसिफ मलिक पर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए। इसमें गंभीर घायल होने पर जोया की अस्पताल में मौत हो गई।

400 सीसीटीवी फुटेज खंगाले

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि वारदात के बाद पुलिस की टीम ने करीब 400 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। फुटेज में मिले क्लू के आधार पर संदिग्ध व्यक्ति की 1500 किलोमीटर तक पीछा कर पुलिस टीम नामपुर जिला नासिक महाराष्ट्र पहुंची और यहां से आरोपी महेश भास्कर ठाकरे को गिरफ्तार किया गया। पुलिस पूछताछ में महेश भास्कर ने बताया कि 6 साल पहले जोया आसिफ मलिक से उसकी दोस्ती पुणे में हुई थी। जिसके बाद साल 2020 में दोनों ने शादी कर ली थी। इसके बाद कुछ दिन दोनों साथ में रहे, तभी जोया अचानक गायब हो गई। इस संबंध में पुणे पुलिस थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई गई। पुणे महाराष्ट्र पुलिस ने जोया आसिफ मलिक को दस्तयाब कर लिया, लेकिन यहां जोया ने महेश के साथ रहने से मना कर दिया। 

अपने प्रेमी के साथ रहने लगी 

महेश से अलग होने के बाद मृतका जोया आसिफ मलिक ने पुणे को छोड़कर पश्चिम बंगाल में अपने प्रेमी साहिल के साथ रहने लगी। जैसे ही महेश को इस बात का पता चला, उसने जोया से बदला लेने की ठान ली। इसी दौरान महेश लगातार जोया का पीछा करता रहा। इसी दौरान 21 अक्टूबर को जैसे ही जोया दिल्ली से जयपुर में आई, महेश ने सांगानेर में दिनदहाड़े उसकी हत्या कर दी।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें