ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानभजनलाल के अंतरिम में बजट वसुंधरा राजे से ज्यादा घोषणाएं? क्या है सियासी मायने

भजनलाल के अंतरिम में बजट वसुंधरा राजे से ज्यादा घोषणाएं? क्या है सियासी मायने

राजस्थान में भजनलाल सरकार ने अपना पहला अंतिरम बजट पेश कर दिया है। बजट में आगामी लोकसभा चुनाव की झलक दिखाई दे रही है। जनता को लुभाने के लिए बंपर घोषणाएं की है। क्या चुनाव में लाभ मिलेगा?

भजनलाल के अंतरिम में बजट वसुंधरा राजे से ज्यादा घोषणाएं? क्या है सियासी मायने
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 09 Feb 2024 08:02 AM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में भजनलाल सरकार ने अपना पहला अंतिरम बजट पेश कर दिया है। वित्तमंत्री ने बजट में पिछली गहलोत सरकार औऱ उससे पहले की वसुंधरा राजे सरकार से ज्यादा घोषणाएं की है। इसका मतलब साफ है कि सरकार पूरी तरह से चुनावी मोड़ पर है। बजट में आगामी लोकसभा चुनाव की झलक दिखाई दे रही है। जनता को लुभाने के लिए वित्तमंत्री दीया कुमारी ने बंपर घोषणाएं की है। बड़ा सवाल यही है कि क्या कांग्रेस के घोषणाओं को रेवड़ियां कहने वाली बीजेपी के चुनावी लाभ मिल पाएगा? सियासी जानकारों का कहना है कि राज्य की माली हालत ठीक नहीं है। यहीं वजह है कि पेट्रोल -डीजल के दामों में कमी नहीं की गई। जबकि पीएम मोदी समेत बीजेपी के सभी नेताओं ने विधानसभा चुनाव में पेट्रोल-डीजल के दाम ज्यादा होने पर गहलोत सरकार को निशाने पर ले लिया था। लेकिन सरकार बने हुए करीब दो महीने हो गए है। दामों में कोई कमी नहीं आई है। 

हर वर्ग को लुभाने की कोशिश

सरकार ने अपने अंतरिम बजट में युवाओं, महिलाओं औऱ उम्रदराज लोंगो का खासा ध्यान रखा है। युवाओं के लिए 70 हजार नौकरियों की घोषणा की है। जबकि बुजुर्गो की पेंशन में 150 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। इसी प्रकार सरकातरी बसों में 50 फीसदी किराए की छूट दी गई है। गर्भवती महिलाओं के लिए 1500 रुपये बढ़ाए है। अब 6500 रुपये मिलेंगे। गहलोत सरकार की इस योजना में बढ़ोतरी करने से साफ जाहिर है कि सरकार का फोकस आधी आबादी पर है। सरकार ने किसानों को लुभाने के लिए भी कई तरह की घोषणाएं की है। सियासी जानकारों का कहना है कि सरकार का पहला अंतरिम बजट चुनावी चासनी में लिपटा हुआ है। अभ देखना यह है कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी को कितना फायदा मिलता है। 

जयपुर में मेट्रो के नए रूट को मंजूरी, ईआरसीपी का दांव

वित्तमंत्री ने जयपुर में मेट्रो के नए रूट को मंजूरी दी है। इससे जयपुर में विकास के पंख लग जाएंगे। माना जा रहा है कि जयपुर में मेट्रो के विस्तार से बीजेपी को चुनावी फायदा मिल सकता है। राजस्थान के 5 लाख घरों में सोलर प्लांट भी लगाए जाने की घोषणा की गई है। वित्त मंत्री ने कहा कि प्रदेश में सड़कों के विकास के लिए 1500 करोड़ रुपए का प्रावधान भी किया जा रहा है। वित्त मंत्री ने कहा कि पिछली सरकार की गलत नीतियों के कारण कर्जदार हो गए है। वित्तमंत्री ने ईआरसीपी की प्रगति रिपोर्ट पेश की। ईआऱसीपी अब करीब 45 हजार करोड़ की योजना हो गई है। वित्तमंत्री ने कहा कि अब 13 की जगह 21 जिलों को योजना का लाभ मिलेगा। पानी और सिंचाई की वर्षो पुरानी आस पूरी होगी वित्तमंत्री ने लाडो प्रोत्साहन योजना का ऐलान किया है। गरीब परिवारों में बच्चियों के जन्म पर एक लाख रुपए का बॉन्ड दिया जाएगा। जबकि 60 से 80 वर्ष के नागरिकों को राज्य की सीमा में रोडवेज बसों में किराए में 30 फीसदी छूट को 50 फीसदी किया जाएगा। अगले वर्ष 12 लाख किसानों का गुणवत्तापूर्ण बीज मिलेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें