ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानराजस्थान में मौसम बिगड़ा, सर्दी से किसान की मौत; इन जिलों में बारिश का भी अलर्ट

राजस्थान में मौसम बिगड़ा, सर्दी से किसान की मौत; इन जिलों में बारिश का भी अलर्ट

राजस्थान में शीतलहर जारी है। कई स्थानों पर पारा माइनस में है। केकड़ी जिले में एक किसान के तेज सर्दी के कारण मौत हो गई। दूसरी तरफ जोधपुर और उदयपुर संभाग के जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है।

राजस्थान में मौसम बिगड़ा, सर्दी से किसान की मौत; इन जिलों में बारिश का भी अलर्ट
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान जय,जयपुरSun, 07 Jan 2024 12:53 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में शीतलहर जारी है। कई स्थानों पर पारा माइनस में है। केकड़ी जिले में एक किसान के तेज सर्दी के कारण मौत हो गई। वहीं, मौसम के हाल और बिगड़ने के अब संकेत मिल रहे हैं। प्रदेश के करीब एक दर्जन जिलों में घना कोहरा छाया रहा। अलसुबह राहगीरों को खासी परेशानी हुई। दूसरी तरफ मौसम विभाग ने कोटा और उदयपुर संभाग में अब बारिश का अलर्ट जारी किया है। अलवर प्रदेश में सबसे ठंडा रहा और न्यूनतम पारा 3.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यहां शीतलहर का प्रकोप जारी है। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थान में मौसम शुष्क रहेगा। कुछ भागों में घने से अति घना कोहरा छाया रहने और तेज सर्दी पडऩे का अनुमान है। मौसम केन्द्र ने सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से 8 और 9 जनवरी को जयपुर जिले में यलो अलर्ट जारी किया है। इसमें बारिश होने के साथ ओले गिरने की भी संभावना जताई है। इन दो दिन पूरे शहर में आसमान में बादल छाए रह सकते हैं। इस दौरान सर्दी का असर कम हो सकता है।

ज्यादार इलाकों में रात का पारा 10 डिग्री से नीचे

राजस्थान के ज्यादा इलाकों में रात का पारा 10 डिग्री से. के नीचे बना हुआ है। शेखावाटी के सीकर, चूरू और पिलानी में न्यूनतम पारा 6 से 8 डिग्री से. के बीच दर्ज हुआ। जैसलमेर में भी तेज सर्दी बरकरार है। यहां रात पारा 5 डिग्री से. रेकॉर्ड किया गया। भीलवाड़ा में भी न्यूनतम तापमान 4.2, करौली में 5.1 और सिरोही में 6 डिग्री से रेकॉर्ड किया गया।

माउंट आबू में गिरा पारा

राजस्थान के एकमात्र हिल स्टेशन माउंटआबू में पारा गिर गया है। पारा माइनस 1 डिग्री। माउंट आबू के न्यूनतम तापमान में रविवार को फिर से गिरावट दर्ज की गई। रविवार को पारा माइनस एक डिग्री दर्ज किया गया। पारे में गिरावट से लोगों की धुजणी छूट गई। न्यूनतम तापमान में हुई भारी गिरावट के चलते लोगों की दिनचर्या में खासा असर पड़ा है। लोग देर तक घरों में दुबके रहते हैं। तापमान में गिरावट के बाद मैदानी इलाकों में ओस की बूंदें जमी पाई गई। घरों और होटलों के बाहर खड़ी कारों की छत पर बर्फ की परत भी जमी पाई गई। पर्यटक बर्फ की परतों को देख रोमांचित हो उठे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें