ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानRajasthan: थर्ड ग्रेड शिक्षकों के तबादला से जुड़ा बड़ा अपड़ेट, शिक्षामंत्री ने कहीं ये बड़ी बात

Rajasthan: थर्ड ग्रेड शिक्षकों के तबादला से जुड़ा बड़ा अपड़ेट, शिक्षामंत्री ने कहीं ये बड़ी बात

राजस्थान के शिक्षामंत्री मदन दिलावर ने कहा कि पॉलिसी बनाने में टाइम लगता है, इतना जल्दी पॉलिसी बनाना संभव नहीं है। कोशिश करेंगे की आगामी समय में पॉलिसी तैयार कर मंत्रिमंडल में जाए।

Rajasthan: थर्ड ग्रेड शिक्षकों के तबादला से जुड़ा बड़ा अपड़ेट, शिक्षामंत्री ने कहीं ये बड़ी बात
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 01 Feb 2024 12:34 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के शिक्षामंत्री मदन दिलावर ने कहा कि पॉलिसी बनाने में टाइम लगता है, इतना जल्दी पॉलिसी बनाना संभव नहीं है, लेकिन कोशिश करेंगे की आगामी समय में पॉलिसी तैयार कर मंत्रिमंडल में जाए और मंत्रिमंडल इस पर जो भी फैसला ले, वैसा काम किया जाए।शिक्षामंत्री ने कहा कि 15 फरवरी से स्कूलों में शुरू होने वाले योगाभ्यास और सूर्य नमस्कार को लेकर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की ओर से आरएसएस के एजेंडे पर काम करने के आरोप पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि ये सच है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सोच हमेशा देश और समाज हित में होती है। देश को इसी एजेंडे पर काम करना चाहिए. ये एजेंडा आरएसएस का नहीं बल्कि पूरे देशवासियों का है। अगर कोई कहता है कि सबको देशभक्ति सीखाने का, चरित्र निर्माण करने का, ईमानदार, देशभक्त, परोपकारी बनाने और व्यक्ति निर्माण का एजेंडा आरएसएस का है। देश का नहीं है तो ये गलत बात है। जो एजेंडा पूरे देश का है वो एजेंडा हमारा भी है।

शिक्षामंत्री बोले स्वदेशी पर जोर 

स्वदेशी पर जोर देते हुए शिक्षा मंत्री ने कहा कि हमारे देश में कुछ लोगों ने हीन भावना पैदा कर दी है कि देश में बनाया हुआ कोई भी सामान विदेशी सामान से हल्का होता है, लेकिन आज की तारीख में वो ये कह सकते हैं कि आज देश में आलपिन से लेकर हवाई जहाज, मिसाइल और लड़ाकू विमान तक सर्वश्रेष्ठ बन रहे हैं, जिनकी मांग विदेशों में भी है और जब यहां स्वदेशी सामान बहुत अच्छे हैं तो विदेशी क्यों खरीदें। यहां पर जो भी सामान बनता है, इसका लाभ यहां के लोगों को मिलता है। उन्हें रोजगार मिलता है, हमारे देश का पैसा देश में ही रहता है। इसलिए लिखित में आदेश दिया है कि आलपिन से लेकर बड़ी से बड़ी वस्तु जो शिक्षा विभाग और पंचायती राज विभाग में काम आती है, वो स्वदेशी ही खरीदेंगे। यदि ऐसी कोई वस्तु जो देश में बन ही नहीं रही और विदेशी वस्तु के बिना काम ही नहीं चलेगा, तो मंत्री स्तर पर स्वीकृति लेनी होगी।

लंबित भर्तियों पर अदालत में हो सुनवाई

शिक्षा विभाग की कोर्ट में लंबित चल रही भर्ती को लेकर अभ्यर्थियों ने कोर्ट में सरकार की ओर से उचित पक्ष नहीं रखने का आरोप लगाया है। इस पर मदन दिलावर ने कहा कि ये सच है कि कुछ अभ्यर्थियों ने ये बात कही हैष कांग्रेस को चाहिए था कि उस समय अपना पक्ष ठीक तरीके से रख पाते। जो मामला कोर्ट में चल रहा है उसे लेकर अब अधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। अदालत की सुनवाई में शामिल होकर प्रॉपर जवाब दें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें