ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानरविंद्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी देने वाला गुजरात में दबोचा, पकड़ में ऐसे आया

रविंद्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी देने वाला गुजरात में दबोचा, पकड़ में ऐसे आया

राजस्थान के शिव विधानसभा से विधायक रविंद्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी को अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने पकड़ा है। फिलहाल, पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी हुई है। जांच जारी है।

रविंद्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी देने वाला गुजरात में दबोचा, पकड़ में ऐसे आया
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSun, 23 Jun 2024 12:59 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के शिव विधानसभा से विधायक रविंद्र सिंह भाटी को जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपी को अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने पकड़ा है। आरोपी का नाम किशनलाल उर्फ केशाराम जाट है। आरोपी राजस्थान के बालोतरा जिले के गीडा थाना इलाके के पारेव गांव का रहने वाला है।पुलिस के मुताबिक बाड़मेर जिले के शिव विधायक रविंद्र सिंह भाटी को धमकी देने वाले आरोपी किशनलाल उर्फ केशाराम जाट को अहमदाबाद क्राइम पुलिस ने कालूपुर रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया है। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने 1 पिस्तोल और 9 जिंदा कारतूस भी बरामद किए है। फिलहाल, पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी हुई है।

पूछताछ में सामने आया है कि आरोपी ने मध्य प्रदेश से एक पिस्तोल और 10 कारतूस खरीदे थे। जिनमें से आरोपी एक कारतूस का इस्तेमाल कर चुका है। आरोपी के विरुद्ध गीडा थाने में लूट का एक मामला भी दर्ज है, जिसमें वह वांछित है। हालांकि, विधायक रविन्द्र भाटी को जान से मारने की धमकी के बाद जब राजस्थान पुलिस ने आरोपी का पीछा किया तो वह गाड़ी छोड़कर भाग गया था। गाड़ी में ही आरोपी ने पिस्टल और कारतूस छिपा रखे थे। गुजरात में आरोपी की गिरफ्तार के बाद राजस्थान पुलिस को हथियार के बारे में पता चला। जिस पर पुलिस ने हथियार बरामद किए। बता दें कि आरोपी ने एक वीडियो जारी कर करीब एक महीने पहले बालोतरा के विधायक रविन्द्र भाटी को जान से मारने की धमकी दी थी।

उल्लेखनीय है कि रविंद्र सिंह भाटी को 27 अप्रेल को भी एक युवक ने जान से मारने की धमकी दी थी। जिस पर पुलिस ने बालोतरा में कपड़े का काम करने वाले मगाराम को गिरफ्तार किया था। आरोपी ने पूछताछ में बताया था कि उसने फेसबुक व इंस्टाग्राम पर मगाराम 04, रोहित गोदारा कपुरीसर और मुकेश उर्फ मगाराम 123 के नाम अकाउंट बना रखा था। इसके बाद उसने 27 अप्रेल की शाम घर से बालोतरा जाते वक्त बस में बैठे-बैठे धमकी भरा कमेंट किया था। हालांकि, तीन घंटे बाद ही पोस्ट डिलीट कर दी थी और आईडी का नाम बदलकर गुमानसिंह जोधपुर कर दिया था। बाद में उसने आईडी को भी डिलीट कर दिया था।