DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   राजस्थान  ›  बेटी का पति रहता था लिव-इन रिलेशनशिप में तो बाप-बेटे ने रची ऐसी साजिश की...

राजस्थानबेटी का पति रहता था लिव-इन रिलेशनशिप में तो बाप-बेटे ने रची ऐसी साजिश की...

एजेंसी ,अलवर:Published By: Arun Binjola
Wed, 27 Jan 2021 06:13 PM
बेटी का पति रहता था लिव-इन रिलेशनशिप में तो बाप-बेटे ने रची ऐसी साजिश की...

राजस्थान के अलवर जिले में 8 जनवरी को कार की टक्कर से 24 साल की महिला की मौत ही गई थी, अब उसी मामले में पुलिस ने खुलासा कर सबको हैरान कर दिया है। हालांकि घटना के समय बात सामने आ रही थी कि सामोला के पास कार की टक्कर से शकमिना नाम की महिला की मौत हो गई। लेकिन मृतक महिला के भाई की शिकायत पर पूरी जांच हुई तो खुलासा हुआ कि यह हादसा नहीं बल्कि हत्या थी। 

वारदात को इतने सुनियोजित तरीके से अंजाम दिया गया कि शुरुआत में पुलिस ने भी इसे हादसा ही माना था। पुलिस ने बताया कि, पिता और भाई ने ही बेटी की सौतन को उसके पति की जिंदगी से हटाने के लिए यह पूरी साजिश रची थी। दोनों ने एक प्लान तैयार किया गया, जिसके लिए रेकी भी की गयी थी। वहीं इस वारदात में 3 लोग शामिल थे, इनमें से पिता-बेटे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जबकि एक आरोपी फरार है।

महिला के भाई ने दर्ज़ कराया था मामला
पुलिस ने बताया कि 8 जनवरी को जाटोली के रहने वाले शौकत खान ने रिपोर्ट दी कि उसकी बहिन शकमिना को उसके पति (लिव इन पार्टनर) आबिद निवासी जटियाना और दूसरी पत्नी मनीषा के मायके वालों ने मार दिया है। हालांकि, शुरुआत में पुलिस भी इसे एक हादसा मान रही थी। लेकिन मृतका के भाई की रिपोर्ट के बाद पुलिस ने जांच शुरू की। 

बेटी को इस परेशानी से छुटकारा दिलाने के लिए मनीषा के पिता ताहिर, भाई रोबिन और रिश्तेदार साजिद ने कार से टक्कर मारकर शकमिना की हत्या की। पुलिस ने आरोपी पिता ताहिर और भाई रोबिन को गिरफ्तार कर लिया। कार भी जब्त कर ली है। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि हत्या की इस वारदात में मनीषा भी शामिल थी या नहीं।

जानिए, कैसे दिया था वारदात को अंजाम
पुलिस ने जांच की तो पता चला कि शकमिना, आबिद के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रहती थी। वहीं, आबिद भी अधिकतर समय शकमिना के साथ ही रहता था। इस वजह से उसकी पत्नी मनीषा तनाव में थी। आबिद मंडी में आढ़ती का काम करता था और 5 साल पहले ही मनीषा से शादी की थी। लेकिन एक साल बाद ही शकमिना के साथ रहने लगा था। पुलिस ने बताया कि, शकमिना मंगलम सिटी में रहती थी। रेकी के दौरान उन्हें पता चला था कि, शकमिना रोज रोड पार करके दूध लेने जाती थी। 

इसी बात का फायदा उठाकर 8 जनवरी को शाम 4 बजे वह रोजाना की तरह रोड पार करके दूध लेकर आती थी। फिर हत्या वाले दिन पहले ही वहां पहुंच गए। इसमें दो लोग कार में थे, जबकि एक मोटरसाइकिल से दूर खड़ा था। जैसे ही शकमिना मंगलम रेजिडेंसी से दूध लेने के लिए रोड की तरफ आने लगी। बाइक लेकर खडे़ पिता ने कार में बैठे बेटे को इशारा कर दिया। जैसे ही शकमिना सड़क के बीच में पहुंची, उसे कार से टक्कर मार दी गई। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। वारदात को अंजाम देकर आरोपी कार सहित भाग गए थे।

पुलिस ने बताया कि, उस वक्त सभी को यही लगा कि कोई दुर्घटना हो गई है। लेकिन, शकमिना के भाई ने इसे दुर्घटना नहीं बल्कि हत्या बताया था। शिकायत मिलने पर पुलिस ने जांच कर खुलासा किया है। लेकिन अभी हत्या का तीसरा आरोपी साजिद फरार है।
 

संबंधित खबरें