ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानकोटा में छात्र करने जा रहा था सुसाइड, पुलिस ने किया कुछ ऐसा; बच गई जान

कोटा में छात्र करने जा रहा था सुसाइड, पुलिस ने किया कुछ ऐसा; बच गई जान

कोटा पुलिस की सर्तकता से एक कोचिंग छात्र को सुसाइड करने से रोककर उसकी जान को बचा लिय गया है। छात्र ने अपनी सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर पोस्ट डालकर सुसाइड करने की बात कही थी। आइये जानते हैं पूरा मामला।

कोटा में छात्र करने जा रहा था सुसाइड, पुलिस ने किया कुछ ऐसा; बच गई जान
Mohammad Azamलाइव हिंदुस्तान,कोटाSun, 11 Feb 2024 05:42 PM
ऐप पर पढ़ें

शिक्षा की काशी में कोटा पुलिस की सर्तकता से एक कोचिंग छात्र को सुसाइड करने से रोककर उसकी जान को बचा लिय गया है। छात्र ने अपनी सोशल मीडिया इंस्टाग्राम पर पोस्ट डालकर सुसाइड करने की बात कही थी। जिसके बाद कोटा पुलिस पुलिस एक्टिव हुई और उसकी जान को बचा लिया गया। वहीं छात्र द्वारा इस तरह का कदम उठाने के प्रयास की जानकारी छात्र के परिजनों को दी गई। जिसके बाद उनके कोटा पहुंचने पर छात्र को माता-पिता के सुपुर्द कर दिया है। शहर एसपी शरद चैधरी ने बताया कि छात्र की जान को बचाकर कोटा पुलिस ने राहत की सांस ली है।

वाराणसी साईबर पुलिस ने दिया था कोटा पुलिस को इनपुट
एसपी शरद चैधरी ने बताया कि वाराणसी साईबर पुलिस के उपनिरिक्षक रोहित सिंह ने कोटा एएसपी संजय गुप्ता को फोन पर सूचना दी और बताया कि शुक्रवार को यूपी के वाराणसी में एक छात्र ने सुसाइड कर लिया था। मृतक छात्र का दोस्त जो नासिक महाराष्ट्र का निवासी है और कोटा में नीट की तैयारी कर रहा है। जिसने अपने दोस्त के सुसाइड से दुखी होकर अपनी इंस्टाग्राम आईडी पर पोस्ट डालकर स्वंय द्वारा जल्द ही सुसाइड करने की जानकारी दी है। इस सूचना को गंभीरता से लेते हुए कोटा पुलिस एक्टिव हो गई और छात्र की तलाश शुरू कर दी। लोकेशन ट्रेस कर छात्र को एक हॉस्टल के कमरे से पुलिस ने अपनी संरक्षण में ले लिया और सुसाइड करने से बचा लिया।

दोस्त ने छत से कूदकर की थी आत्महत्या
पुलिस द्वारा छात्र की काउंसलिंग की गई तो चैकाने वाली बात सामने आई। पुलिस ने बताया कि कोटा निवासी कोचिंग छात्र की अपने मृतक दोस्त रणबीर उपाध्याय से पबजी गेम के माध्यम से मुलाकातर हुई थी। दरअसल, रणवीर वाराणसी में रहता था और मॉडलिंग भी करता था। शुक्रवार को उसका जन्मदिन भी था। छात्र ने बताया कि उसका दोस्त दोपहर तक इंस्टा पर एक्टिव भी था। सामने आया कि रणवीर किसी से फोन पर बात कर रहा था। जिसके बाद उसने छत से कूदकर अपनी जान दे दी। पुलिस द्वारा मृतक छात्र के फोन की जांच करने पर कोटा में रह रहे छात्र का अकाउंट मिला जिसमें उसने सुसाइड की बात लिखी थी। 

शहर एसपी ने कोटा में पढ़ने वाले छात्रों के परिजनों से की अपील
आपको बता दें कि कोटा में देश के कोने-कोने से लाखों की संख्या में स्टूडेट्स अपने भविष्य बनाने के लिए आते हैं। जिनमें कुछ स्टूडेंट्स सफल हो जाते हैं तो कुछ नहीं हो पाते हैं। ऐसे में स्टूडेट्स जो सफल नहीं हो पाए वो मानसिक तनाव में आ जाते हैं और सुसाइड जैसा कदम उठा लेते हैं। ऐसे छात्रों को तनाव से उबारने के लिए कोटा पुलिस सहित जिला प्रशासन लगातार प्रयास करते हैं। शहर एसपी शरद चैधरी ने भी ऐसे छात्रों और उनके परिजनों से अपली की है कि अगर स्टूडेंट यहां नहीं पढ़ पा रहा है तो परिजन उसे समझाएं और अपने साथ ले जाएं, ताकि उसको तनाव से दूर रखा जा सके। वहीं एसपी ने छात्रो से भी अपील की है कि अगर पढाई को लेकर तनाव में रहे तो उसे दूर करने के लिए परिजनों से बातचीत करे ताकि तनाव ना हो।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें