ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानसीकर में ACB का एक्शन, काॅन्स्टेबल रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार; पकड़ में ऐसे आया

सीकर में ACB का एक्शन, काॅन्स्टेबल रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार; पकड़ में ऐसे आया

एसीबी ने सीकर जिले में एक पुलिस कांस्टेबल को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। यह कार्रवाई सीकर के लक्ष्मणगढ़ पुलिस स्टेशन में हुई। आरोपी कांस्टेबल रघुवीर लक्ष्मणगढ़ थाने में पोस्टेड है।

सीकर में ACB का एक्शन, काॅन्स्टेबल रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार; पकड़ में ऐसे आया
acb
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरTue, 25 Jun 2024 05:31 PM
ऐप पर पढ़ें

एसीबी ने सीकर जिले में एक पुलिस कांस्टेबल को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। मिली जानाकारी के अनुसार यह कार्रवाई सीकर के लक्ष्मणगढ़ पुलिस स्टेशन में हुई। रिश्वतखोरी के मामले में कांस्टेबल की गिरफ्तारी की बात सामने आते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। एसीबी की सीकर टीम ने लक्ष्मणगढ़ थाने के कांस्टेबल रघुवीर को सात हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। आरोपी कांस्टेबल ने एक धोखाधड़ी के मामले में रिश्वत मांगी थी। यह कार्रवाई एसीबी मुख्यालय के निर्देश पर सीकर एसीबी की टीम ने की है। आरोपी कांस्टेबल रघुवीर वर्तमान में लक्ष्मणगढ़ थाने में पोस्टेड है। एसीबी की टीम ने आरोपी कांस्टेबल को परिवादी से 7 हजार रुपये रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

बताया गया कि यह कार्रवाई एसीबी जयपुर के उप महानिरीक्षक पुलिस कालूराम रावत के निर्देशन में एसीबी सीकर के उप अधीक्षक पुलिस रविन्द्र सिंह शेखावत के नेतृत्व में पुलिस निरीक्षक सुरेश चंद द्वारा ट्रेप की कार्यवाही की गई। फिलहाल मामले में आरोपी कांस्टेबल से पूछताछ की जा रही है।

सीकर भ्रष्टाचार निरोधक विभाग के उपाधीक्षक रविंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि भ्रष्टाचार निरोधक विभाग सीकर को परिवादी द्वारा एक शिकायत मिली कि उसके खिलाफ कोतवाली थाना हाथरस (उत्तरप्रदेश) में दर्ज प्रकरण में तस्दीक करने आए यूपी पुलिस के हेड कांस्टेबल मनोज एवं लक्ष्मणगढ़ पुलिस थाने के कांस्टेबल द्वारा 10 हजार रुपये रिश्वत राशि मांग कर परेशान किया जा रहा था। जिस पर कांस्टेबल रघुवीर 7 हजार रुपये रिश्वत लेने पर सहमति हुआ। फिर परिवादी से 7 हजार की रुपए लेते कांस्टेबल को रंगे हाथ गिरफ्तार किया। अब गिरफ्तार कांस्टेबल से पूछताछ कर उसके आवास और अन्य ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया जाएगा।