ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानराजस्थान में भीषण गर्मी का कहर, 46 पार पहुंचा तापमान; एक और मुसीबत बाकी

राजस्थान में भीषण गर्मी का कहर, 46 पार पहुंचा तापमान; एक और मुसीबत बाकी

मई महीने के दो हफ्ते बीतने के बाद राजस्थान में भीषण गर्मी की शुरुआत हो गई है। गुरुवार को राजस्थान के गंगानगर जिले में 46.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। आइये जानते हैं प्रदेश के मौसम का हाल।

राजस्थान में भीषण गर्मी का कहर, 46 पार पहुंचा तापमान; एक और मुसीबत बाकी
Mohammad Azamलाइव हिन्दुस्तान,जयपुरThu, 16 May 2024 10:20 PM
ऐप पर पढ़ें

मई महीने के दो हफ्ते बीतने के बाद राजस्थान में भीषण गर्मी की शुरुआत हो गई है। गुरुवार को राजस्थान के गंगानगर जिले में 46.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। प्रदेश के पर्वतीय स्थल माउंट आबू के अलावा राज्य के अधिकतर हिस्सों में तेज गर्मी पड़ रही है। मौसम विभाग का कहना है कि यह दौर अभी एक सप्ताह जारी रहेगा। इस दौरान विभाग ने एक और मुसीबत का अपडेट दिया है। मौसम विभाग ने इस दौरान कई इलाकों में तेज गर्म हवाएं यानी लू चलने की चेतावनी जारी की है। 

मौसम केंद्र (जयपुर) से मिला जानकारी के अनुसार, गुरुवार  दिन में अधिकतम तापमान गंगानगर में 46.3 डिग्री, बाड़मेर में 46.0 डिग्री, जैसलमेर में 45.5 डिग्री, वनस्थली, पिलानी एवं जालोर में 45.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इसके अलावा जोधपुर और संगरिया में यह 44.6 डिग्री, धौलपुर में यह 44.5 डिग्री, कोटा में यह 44.2 डिग्री एवं जयपुर में यह 44.1 डिग्री सेल्सियस रहा। राज्य में अन्य जगहों की बात की जाए तो माउंट आबू के अलावा लगभग सभी जगह पारा 41 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहा। इस दौरान मई महीने में बारिश को लेकर मौसम विभाग ने कोई अपडेट नहीं दिया है। मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में तापमान में और वृद्धि देखने को मिलेगी।

इसके अनुसार आगामी दिनों में राज्य में मौसम मुख्यतः शुष्क रहने और आगामी 48 घंटों में अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस बढ़ोतरी होने से लू के एक सप्ताह तक जारी रहने की आशंका है। गुरुवार को जहां जोधपुर, बीकानेर संभाग के कुछ भागों में लू चली। जोधपुर, बीकानेर संभाग एवं शेखावाटी क्षेत्र में 17 मई से कहीं-कहीं तीव्र ‘हीटवेव’ चलने की आशंका है। पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, बीकानेर संभाग में आगामी 2-3 दिन 25-30 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज सतही हवाएं चलने की संभावना है। ऐसे में लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा।