ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानअग्निपथ की आग में भरतपुर से रोडवेज बसों का संचालन बंद, ₹8 लाख का रोजाना नुकसान

अग्निपथ की आग में भरतपुर से रोडवेज बसों का संचालन बंद, ₹8 लाख का रोजाना नुकसान

अग्निपथ की आग में राजस्थान रोडवेज की 7 बसों को बीते दिनों उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। इस घटना के बाद भरतपुर और लोहागढ़ डिपो में बसों का संचालन बंद कर दिया गया है।

अग्निपथ की आग में भरतपुर से रोडवेज बसों का संचालन बंद, ₹8 लाख का रोजाना नुकसान
Vishva Gauravलाइव हिंदुस्तान,भरतपुर।Sun, 19 Jun 2022 07:31 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अग्निपथ की आग में राजस्थान रोडवेज की 7 बसों को बीते दिनों उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। इस घटना के बाद भरतपुर और लोहागढ़ डिपो में बसों का संचालन बंद कर दिया गया है। जिसके चलते राजस्थान रोडवेज को करीब ₹8 लाख रोजाना का घाटा हो रहा है। दोनों डिपो से करीब 50 बसों का संचालन रोजाना होता था, जिनको बंद कर दिया गया है। वहीं बीते दिन रेलवे स्टेशन पर अग्निपथ के विरोध में युवाओं द्वारा किए गए उपद्रव के बाद भरतपुर स्टेशन पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। 

भरतपुर डिपो के यातायात प्रबंधक योगेंद्र सिंह ने बताया कि बसों का संचालन ठप होने के बाद तकरीबन 2000 यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ रही है। अलवर, दिल्ली, हरियाणा, अलीगढ़, हरिद्वार के अलावा अनेक जगहों के लिए भरतपुर और लोहागढ़ डिपो की बसें जाती हैं। मगर अग्निपथ योजना के विरोध के चलते फिलहाल बसों का संचालन बंद किया गया है। 

हर दिन हो रहा 8 लाख का नुकसान
सिंह ने कहा, 'आंदोलन उग्र होने के बाद जगह-जगह बसों में तोड़फोड़ की जा रही है। बसों को आग लगाई जा रही है। जिससे रोडवेज को काफी नुकसान हो रहा है। फिलहाल स्थानीय स्तर पर जिले के अंदर ही बसों का संचालन किया जा रहा है। बस स्टैंड पर सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस को लिखित में आवेदन कर दिया गया है।' सिंह ने बताया कि बसों का संचालन बंद करने से रोडवेज को करीब 8 लाख रुपये रोजाना का नुकसान हो रहा है। 

रेलवे स्टेशन पर बढ़ाई सुरक्षा
बीते दिन प्रदर्शनकारियों ने रेलवे स्टेशन पर उत्पात मचाया था। पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच काफी देर तक झड़प चली थी, जिसमें कई पुलिसकर्मी चोटिल हुए थे। इसलिए स्टेशन पर फिर से कोई उपद्रव ना हो और रेलवे की संपत्ति को नुकसान ना हो उसके लिए भारी संख्या में पुलिस जाब्ता तैनात किया गया है।

epaper