ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानभजनलाल सरकार ने 22 जनवरी को मांस-मछली की बिक्री पर लगाई रोक, दुकानें खुली तो एक्शन

भजनलाल सरकार ने 22 जनवरी को मांस-मछली की बिक्री पर लगाई रोक, दुकानें खुली तो एक्शन

राजस्थान में भजनलाल सरकार ने 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के दिन प्रदेश में बूचड़खाने एवं मांस-मछली की दुकानें बंद रखने के निर्देश जारी किए है। राज्य के यूडीएच विभाग ने आदेश जारी कर दिए है।

भजनलाल सरकार ने 22 जनवरी को मांस-मछली की बिक्री पर लगाई रोक, दुकानें खुली तो एक्शन
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान ज,जयपुरSat, 20 Jan 2024 06:32 AM
ऐप पर पढ़ें

Ramlala Pran Pratishtha: राजस्थान में भजनलाल सरकार ने 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के दिन प्रदेश में बूचड़खाने एवं मांस-मछली की दुकानें बंद रखने के निर्देश जारी किए है। राज्य के स्वायत्त शासन विभाग ने आदेश जारी कर दिए है। बता दें राज्य सरकार ने प्राण प्रतिष्ठा के दिन आधे दिन का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया है। इस संबंध में सीएम भजनलाल शर्मा पहले ही आॉदेश जारी कर चुके है। 22 जनवरी को प्रदेश भर में ड्राई डे घोषित किया गया है।

उल्लेखनीय है  अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। 22 जनवरी को रामलला भव्य मंदिर में विराजमान होंगे। रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दिन राजस्थान में मांस-मछली और शराब बेचने पर बैन रहेगा। भजनलाल सरकार ने रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को उत्सव के रूप में मनाने का ऐलान किया है। शैक्षणिक संस्थानों समेत अन्य प्रतिष्ठानों को भी आधे दिन का अवकाश रहेगा। 

दुकाने खुली तो होगा एक्शन 

स्वायत्त शासन विभाग के निदेशक सुरेश कुमार ओला के द्वारा जारी आदेश के अनुसार 22 जनवरी को बूचड़खाने, शराब और मीट की दुकानें खुली रहेंगी तो इस पर एक्शन लिया जाएगा। आदेशों की पालना के लिए सख्त निर्देश जारी किए गए है। 22 जनवरी की शाम हर घर, घाट और मंदिर में दीपोत्सव का कार्यक्रम होगा। अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम निर्धारित है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के न्योते पर देश-दुनिया से वीआईपी अतिथि अयोध्या आएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम समाप्त होने के बाद राम मंदिर को खोल दिया जाएगा। श्रद्धालु आराध्य भगवान राम के चरणों में शीश नवा सकेंगे।गुरुवार को राम मंदिर के गर्भगृह में रामलला का विग्रह स्थापित कर दिया गया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें