ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानRajasthan: छात्रसंघ चुनाव की तिथि बढ़ाने को लेकर जयपुर में पानी की टंकी पर चढ़े छात्र, सुसाइड की दी धमकी

Rajasthan: छात्रसंघ चुनाव की तिथि बढ़ाने को लेकर जयपुर में पानी की टंकी पर चढ़े छात्र, सुसाइड की दी धमकी

राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव की तिथि आगे बढ़ाने की मांग को लेकर 3 छात्र राजस्थान विश्वविद्यालय की पानी की टंकी पर चढ़ गए। छात्रों का कहना है कि मांगे नहीं मानी गई तो आत्महत्या कर लेंगे।

Rajasthan: छात्रसंघ चुनाव की तिथि बढ़ाने को लेकर जयपुर में पानी की टंकी पर चढ़े छात्र, सुसाइड की दी धमकी
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSat, 06 Aug 2022 03:59 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव की तिथि आगे बढ़ाने की मांग को लेकर 3 छात्र राजस्थान विश्वविद्यालय की पानी की टंकी पर चढ़ गए। छात्रों का कहना है कि मांगे नहीं मानी गई तो आत्महत्या कर लेंगे। फिलहाल प्रशासन तीनों छात्रों को नीचे उतारने की मशक्कत कर रहा है। सरकार पहले ही छात्रसंघ चुनाव की तिथि आगे बढ़ाने से इंकार कर चुकी है। छात्र नेता नरेंद्र यादव, मनु दाधीच और राहुल मीणा सवा एक बजे पानी की टंकी पर चढ़े। तीनों छात्रों के हाथ में पेट्रोल की बोतले हैं। साथ ही तीनों ने गले में रस्सी से फंदा भी लगा रखा है। जिसका दूसरा छोर टंकी की रेलिंग से बंधा है। पानी की टंकी के नीचे आपदा राहत टीम ने सुरक्षा के इंतजाम किए गए। अपने समर्थकों के साथ टंकी पर चढ़े छात्र नेता नरेंद्र यादव ने कहा कि जब तक सरकार 100% एडमिशन की प्रक्रिया पूरी नहीं कर लेती। छात्रसंघ चुनाव नहीं होने चाहिए। क्योंकि ऐसा करने से लोकतंत्र के महापर्व में छात्र शामिल नहीं हो सकेंगे। लेकिन अगर सरकार ने फिर भी ऐसा किया तो हम आत्म दाह कर लेंगे। पीछे नहीं हटेंगे। हमारे साथ जबरदस्ती की गई तो हम आत्महत्या कर लेंगे लेकिन पीछे नहीं हटेंगे।

26 अगस्त को होने है चुनाव

राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव 26 अगस्त को होने है। जबकि 27 अगस्त को मतगणना होगी। गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव ने छात्रसंघ चुनाव की तिथि आगे बढ़ाने से इंकार किया है। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में हाल ही में हुई जनसुनवाई के बाद मीडिया से बात करते हुए राजेंद्र यादव ने कहा था कि प्रदेश में छात्रसंघ चुनाव तय समय पर ही होंगे। उल्लेखनीय है कि राजस्थान में कोरोना की वजह से 2 साल से छात्रसंघ चुनाव नहीं हो पाए थे। छात्रसंघों से जुडे़ प्रतिनिधि लंबे समय से चुनाव कराने की मांग कर रहे थे। छात्रों के हितों के मद्देनजर सीएम गहलोत ने जुलाई महीने में छात्र संघ कराने की हरी झंड़ी प्रदान की थी। इसके बाद उच्च शिक्षा विभाग ने छात्रसंघ चुनाव का ऐलान कर दिया। 

एबीवीपी और एनएसयूआई कर रहे हैं तिथि बढ़ाने की मांग

कांग्रेस और भाजपा से जुड़े छात्रसंगठन  एनएसयूआई और एबीवीबी  सरकार ने तिथि बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। संगठनों का कहना है कि एकडमिशन की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है। ऐसे में छात्र संघ चुनाव की तिथि आगे बढ़ाई जाए। हालांकि, राज्य सरकार इससे साफ इंकार कर चुकी है। लेकिन प्रदेश के विभिन्न जिलों में तिथि आगे बढ़ाने की मांग जोर पकड़ती जा रही है।

epaper