ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानराजस्थान: क्राॅस वोटिंग पर भाजपा विधायक का हुआ निलंबन, शोभारानी कुशवाह ने प्रमोद तिवारी को दिया वोट, जानें मामला 

राजस्थान: क्राॅस वोटिंग पर भाजपा विधायक का हुआ निलंबन, शोभारानी कुशवाह ने प्रमोद तिवारी को दिया वोट, जानें मामला 

राजस्थान में राज्यसभा चुनाव में क्राॅस वोटिंग करने वाली भाजपा शोभारानी कुशवाह को पार्टी से निलंबित कर दिया है। धौलपुर विधायक पर कांग्रेस उम्मीदवार प्रमोद तिवारी के पक्ष में मतदान करने का आरोप है।

राजस्थान: क्राॅस वोटिंग पर भाजपा विधायक का हुआ निलंबन, शोभारानी कुशवाह ने प्रमोद तिवारी को दिया वोट, जानें मामला 
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 10 Jun 2022 09:21 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में वसुंधरा राजे कैंप की विधायक शोभारानी कुशवाह के क्राॅस वोटिंस से भाजपा में असंतोष बढ़ने के आसार बन गए है। वसुंधरा राजे के गृह जिले धौलपुर विधायक शोभारानी कुशवाह ने कांग्रेस के प्रत्याशी प्रमोद तिवारी के पक्ष में मतदान किया है। क्राॅस वोटिंग करने पर बीजेपी ने शोभारानी कुशवाह को पार्टी की प्राथमिक की सदस्यता से निलंबित कर दिया है। क्राॅस वोटिंग करने के मामले को भाजपा ने गंभीरता से लिया और चुनाव परिणाम जारी होने के तुरंत बाद शोभारानी कुशवाह को पार्टी से निलंबित कर दिया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि पार्टी में अनुशासनहीनता बर्दास्त नहीं की जाएगी। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि शोभारानी कुशवाह ने कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में मतदान किया है। क्राॅस वोटिंग की है। उन्हें नोटिस दिया गया है। नोटिस का जवाब मिलने के बाद एक्शन लिया जाएगा। 

तिवारी बोले- मैं शोभारानी कुशवाह को नहीं जानता 

कांग्रेस उम्मीदवार प्रमोद तिवारी ने कहा कि मैं शोभारानी कुशवाह को नहीं जानता हूं। इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है।सीएम गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के एक विधायक ने गलत वोट कर दिया। इससे वह वोट रिजेक्ट हो गया। माना जा रहा है कि कांग्रेस विधायक परसराम मोरदिया का वोट रिजेक्ट हुआ है। सीएम गहलोत ने कहा कि शोभारानी कुशवाह ने कांग्रेस को इसलिए वोट दिया कि वह भाजपा से परेशान थी। गहलोत ने मजाक में कहा कि शोभारानी कुशवाह और प्रमोद तिवारी पड़ोंसी है।

सुभाष चंद्रा को मिले 30 वोट 

तय समय से करीब 1 घंटे 23 मिनट लेट हुई मतगणना के बाद कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी एवं भाजपा के घनश्याम तिवाड़ी को विजयी घोषित कर दिया गया। राज्यसभा में जीत से सीएम गहलोत का कद बढ़ गया हैं। भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी सुभाष चंद्रा को 30 और घनश्याम  तिवाड़ी को 43 वोट मिले। कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला को 43, मुकुल वासनिक को 42 और प्रमोद तिवारी को 41 वोट मिले। कांग्रेस को 126 से ज्याद वोट मिले है। कांग्रेस को एक वोट रिजेक्ट हुआ है। जबकि भाजपा का एक वोट कांग्रेस को मिला है। कांग्रेस विधायक परसराम मोरदिया का वोट खारिज हो गया है।

सुभाष चंद्रा के वोटों में ही कांग्रेस ने लगाई सेंध

कांग्रेस के विधायकों में सेंध लगाने का दावा करने वाले भाजपा समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा के वोटों में कांग्रेस ने सेंध लगा दी। हनुमान बेनीवाल की पार्टी आरएलपी के 3 विधायकों का सपोर्ट सुभाष चंद्रा को मिला। भाजपा के कुल वोट 74 हो गए, लेकिन कांग्रेस ने बीेजेपी के 2 वोटों की सेंध लगा दी। आरएलपी के समर्थन के बाद सुभाष चंद्रा को 8 वोट चाहिए थे। लेकिन सुभाष चंद्रा 8 वोटों का जुगाड़ नहीं कर पाए।कांग्रेस के उम्मीदवारों को कांग्रेस के 108, 13 निर्दलीय, एक आरएलडी, दो सीपीएम और दो बीटीपी विधायकों को मिलाकर कुल 126 विधायकों का समर्थन मिला है। भाजपा कांग्रेस के खेमे में सेंध नहीं लगा पाई। चुनाव से पहले भाजपा नेता कांग्रेस विधायकों को तोड़ने का दावा कर रहे थे।

epaper