ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानवह मुद्दे जो किरोड़ी लाल -सांसद जसकौर की टकराहट की वजह बने, BJP को कितना नुकसान?

वह मुद्दे जो किरोड़ी लाल -सांसद जसकौर की टकराहट की वजह बने, BJP को कितना नुकसान?

राजस्थान के दौसा जिले से बीजेपी सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री जसकौर मीणा और कृषि मंत्री किरोड़ी लाल मीणा के बीच टकरावट कम होने की बजाय बढ़ती ही जा रही है। दौसा में बीजेपी को नुकसान हो सकता है।

वह मुद्दे जो किरोड़ी लाल -सांसद जसकौर की टकराहट की वजह बने, BJP को कितना नुकसान?
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 23 Feb 2024 02:43 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के दौसा जिले से बीजेपी सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री जसकौर मीणा और कृषि मंत्री किरोड़ी लाल मीणा के बीच टकरावट कम होने की बजाय बढ़ती ही जा रही है। दोनों नेताओं के बीच टकराहट की वजह दौसा में जिले में वर्चस्व को लेकर है। सियासी जानकारों का कहना है कि दोनों नेताओं की बीच की खींचतान का नुकसान बीजेपी को उठाना पड़ सकता है। दौसा कांग्रेस का परंपरागत गढ़ रहा है, लेकिन दो चुनाव से बीजेपी जीत रही है। ऐसे में अगर किरोड़ी समर्थक नाराज हो जाते हैं तो दौसा से बीजेपी का जीतना मुश्किल हो सकता है। हालांकि, टिकट फाइनल होने के बाद ही तस्वीर साफ हो पाएगी। माना यही जा रहा है कि इस बार जसकौर मीणा का टिकट कट सकता है। सियासी जानकारों का कहना है कि किरोड़ी लाल दौसा से अपने भाई जगमोहन मीणा को बीजेपी का टिकट दिलाना चाहते है।

किरोड़ी की फोटो देखकर भड़क गई जसकौर 

माना जा रहा है कि यही बात जसकौर को मीणा को पसंद नहीं आई है। इसलिए वह नाराज हो गई। सांसद जसकौर किरोड़ी लाल की पोस्टरों में फोटो देखकर भड़क गई। राजीविका मिशन अधिकारी बलदेव गुर्जर को फोन लगाकर जमकर फटकार लगाई। राजीविका मिशन अधिकारी बलदेव गुर्जर को फोन लगाकर जमकर फटकार लगाई।कहां- 'जो पोस्टर बनाया है...उसमें ना मेरा ना विधायक रामविलास का फोटो है, किरोड़ी का लगा रखा है...क्या लेना-देना उसका यहां?'जानकारी के मुताबिक बीजेपी सांसद जसकौर मीणा के संसदीय क्षेत्र में शक्ति वंदन स्वंय सहायता समूह सखी सम्मान समारोह आयोजित किया गया था जहां इस कार्यक्रम के पोस्टर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री भजनलाल और विधायक किरोड़ीलाल मीणा की फोटो लगी हुई थी। इसके बाद मीणा की फोटो देखकर सांसद जसकौर को गुस्सा आ गया और उन्होंने मंच से ही राजीविका मिशन अधिकारी बलदेव गुर्जर को फोन लगाकर जमकर फटकार लगाई। 

दौसा सीट को लेकर टकराहट

सियासी जानकारों का कहना है कि किरोड़ी लाल मीणा और जसकौर के बीच दौसा सीट विवाद की प्रमुख वजह है। किरोड़ी दौसा से अपने भाई या समर्थक को टिकट दिलाना चाहते हैं। यह कोई पहली बार ऐसा नहीं हुआ है। इससे पहले दोनों नेता और इनके समर्थक भिड़ चुके है। 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले भी दोनों के बीच तकरार खुलकर सामने आई थी। इसके बाद कई मौकों पर दोनों एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी करते रहे। लोकसभा चुनाव में किरोड़ी समर्थकों ने जसकौर का विरोध किया था। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी का समर्थन किया था। ऐसे वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे। हालांकि, तमाम विरोध के बाद भी जसकौर मीणा ने 2019 में सांसद का चुनाव जीत लिया था। लेकिन इस बार हालात बदले हुए है। यही वजह है कि जसकौर किरोड़ी से नाराज हो गई। 

किरोड़ी बोले थे इस्तीफा दे देना चाहिए 

इसके अलावा आरक्षण को लेकर जसकौर मीणा ने सक्षम लोगों से आरक्षण का लाभ छोड़ने के बात कही तो किरोड़ी ने कहा ऐसे बयानों का कोई तुक नहीं है, अगर वे सांसद की आरक्षित सीट छोड़ें तो इस्तीफा देंष दरअसल जसकौर मीणा ने कहा था कि जब मैं सांसद बन गई तो मैंने अपने बच्चों को आरक्षण का लाभ नहीं दिलवाया और समाज के सक्षम लोगों को भी आरक्षण का लाभ छोड़ देना चाहिए था। इस पर किरोड़ीलाल मीणा ने पलटवार करते हुए कहा था कि ऐसे बेतुका बयानों का कोई मतलब नहीं है और अगर वह आरक्षण छोड़ रही हैं तो उन्हें संसद की सदस्यता से इस्तीफा दे देना चाहिए जिसके बाद वहां उपचुनाव हो जाएंगे और किसी दूसरे को मौका मिलेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें