ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानकेसी वेणुगोपाल जयपुर आ रहे हैं, गहलोत- पायलट के लिए खुशी या गम; जानें क्या है खड़गे का संदेश?

केसी वेणुगोपाल जयपुर आ रहे हैं, गहलोत- पायलट के लिए खुशी या गम; जानें क्या है खड़गे का संदेश?

राजस्थान में सियासी खींचतान के बीत कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल 29 नवंबर को जयपुर आ रहे है। केसी वेणुगोपाल के दौरे के लेकर सियासी अटकलों का बाजार गर्म है। खड़गे का क्या संदेश ला रहे हैं।

केसी वेणुगोपाल जयपुर आ रहे हैं, गहलोत- पायलट के लिए खुशी या गम; जानें  क्या है खड़गे का संदेश?
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSat, 26 Nov 2022 01:47 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में सियासी खींचतान के बीत कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल 29 नवंबर को जयपुर आ रहे है। केसी वेणुगोपाल के दौरे के लेकर सियासी अटकलों का बाजार गर्म है। भारत जोड़ो यात्रा से पहले वेणुगोपाल का जयपुर दौरा काफी अहम है। चर्चा यह भी है कि माकन की जगह उन्हें राजस्थान का प्रभारी बनाया जा सकता है। कहा यह जा रहा है कि केसी वेणुगोपाल गहलोत-पायलट के बीच जारी जुबानी जंग को रोकने के लिए सीएम अशोक गहलोत से बात कर सकते हैं। हालांकि, आधिकारिक तौर पर केसी वेणुगोपाल का दौरा राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर बताया जा रहा है। बता दें, राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा दिसंबर के पहले सप्ताह में राजस्थान में प्रवेश करेगी। राजस्थान में करीब 18 दिन रहेगी और 521 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। 

सियासी बवंडर थामने की कवायद

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने भारत जोड़ो यात्रा की राजस्थान में एंट्री से पहले सचिन पायलट पर हमला बोला है। गहलोत के बयान के बाद कांग्रेस आलाकमान चिंतित हो गया है। बताया जा रहा है कि मल्लिकार्जुन खड़गे का कोई संदेश लेकर ही केसी वेणुगोपाल जयपुर आ रहे हैं। चर्चाओं के बीच संगठन महासचिव वेणुगोपाल का 29 नवंबर का दौरा काफी अहम माना जा रहा है। सीएम गहलोत इस समय गुजरात के चुनावी दौरे पर है। सीएम आज दिन भर चुनावी दौरे पर व्यस्त रहेंगे। बता दें राजस्थान में पायलट कैंप के विधायक लगातार नेतृत्व परिवर्तन की मांग कर रहे हैं। जबकि गहलोत कैंप के विधायक इसका विरोध कर रहे हैं। गहलोत कैंप के माने जाने मंत्री परसादी लाल ने दो टूक कह दिया है कि राजस्थान में नेतृत्व परिवर्तन किया तो पंजाब जैसे हालात हो जाएंगे। जबकि पायलट कैंप के मंत्री हेमाराम चौधरी का कहना है कि नेतृत्व परिवर्तन नहीं किया गया तो कांग्रेस की सरकार रिपीट नहीं होगी। 

गुटबाजी से कांग्रेस आलाकमान चिंतित

राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि केसी वेणुगोपाल भारत जोड़ो यात्रा को लेकर होने वाली बैठक में हिस्सा लेने के बहाने आलाकमान का संदेश भी नेताओं तक पहुंचाएंगे। पार्टी के लिए इस समय राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा महत्वपूर्ण है। वजह यह है कि इस यात्रा के बहाने ना केवल पार्टी को फिर से सक्रिय किया जा रहा है, बल्कि राहुल को भी एक बड़े नेता के रूप में जनता के बीच पेश किया जा रहा है। अगले महीने राजस्थान में यह यात्रा आने वाली है। ऐसे में पार्टी किसी भी तरह इस कलह को खत्म करना चाहती है। यही वजह है कि इस यात्रा के बाद राजस्थान की गुटबाजी को दूर करने की दिशा में काम किया जाएगा।