ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानPhone Taping Case: केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को पीसीसी चीफ का खुला चैलेंज, डोटासरा बोले- मानहानि के लिए तैयार हूं

Phone Taping Case: केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को पीसीसी चीफ का खुला चैलेंज, डोटासरा बोले- मानहानि के लिए तैयार हूं

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत में जुबानी जंग तेज हो गई है। पीसीसी चीफ डोटासरा ने शेखावत को मानहानि का करने के लिए खुला चैलेंज दिया है।

Phone Taping Case: केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को पीसीसी चीफ का खुला चैलेंज, डोटासरा बोले- मानहानि के लिए तैयार हूं
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 18 Aug 2022 05:06 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत में जुबानी जंग तेज हो गई है। पीसीसी चीफ डोटासरा ने शेखावत को मानहानि का केस दर्ज करने के लिए खुला चैलेंज दिया है। डोटासरा ने कहा कि 'शेखावत उन पर मान​हानि का मुकदमा करें। उन्हें मना कौन कर रहा है। वैसे भी अभी तो वह केंद्र में मंत्री हैं। उनके वकीलों के पैसे भी नहीं लगेंगे.'। डोटासरा ने कहा कि उनकी मानहानि के मुकदमे की गीदड़ भभकी से मैं डरने वाला नहीं हूं। उल्लेखनीय है कि राजस्थान में फोन टैपिंग के मामले पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह के वॉयस सैंपल को लेकर दिए गए बयान पर बिफर गए थे। शेखावत ने कहा कि मुझे ऐसा लगता है कि विश्वेंद्र सिंह को न तो देश के कानून की जानकारी है और न ही इस पूरे विषय की। शेखावत ने कहा कि कांग्रेस मुझे मानहानि मुकदमा कर्ज कराने का मौका दे रही है।

डोटासरा बोले- मानहानि के लिए तैयार हूं 

पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने राजधानी जयपुर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज है। अगर उसके बाद भी यह बोलना मानहानि है, तो यह मानहानि सहन करने के लिए मैं तैयार हूं।  डोटासरा ने कहा कि केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को राजस्थान की सेवा करने का मौका मिला, लेकिन वह न तो राजस्थान के लोगों की प्यास बुझा पा रहे हैं, न ही महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर अपनी बात रख पा रहे हैं। पता नहीं मेरी उम्र ज्यादा है या गजेंद्र सिंह शेखावत की, लेकिन उनके बालों को देखकर लगता है कि वह मेरे बड़े भाई की तरह हैं। लेकिन सीकर के पानी में तो इतनी झूठ नहीं है। गजेंद्र सिंह ने कहां से इतना झूठ बोलना सीखा, यह मेरी समझ से बाहर है।

शेखावत पर लगे थे विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोप

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय मंत्री शेखावत उदयपुर में मीडिया से बात करते हुए शेखावत विश्वेंद्र सिंह के वॉयस सैंपल को लेकर गए बयान पर बिफर गए थे। उल्लेखनीय है कि हाल ही में मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने भरतपुर में कहा कि था कि विधायकों की खरीद फरोख्त मामले में मैं अपना वॉयस सैंपल देने के लिए तैयार हूं। केंद्रीय मंत्री शेखावत को भी देना चाहिए। करीब 10 दिन बाद शेखावत ने विश्वेंद्र सिंह के आरोपों पर पलटवार किया है। उल्लेखनीय है कि वर्ष 2020 में पायलट गुट की बगावत की वजह से गहलोत सरकार संकट में आ गई थी। केंद्रीय मंत्री शेखावत पर विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोप लगे थे। 

epaper