ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थान'राजस्थान को पार्टी का एटीएम बना दिया', अमित शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना

'राजस्थान को पार्टी का एटीएम बना दिया', अमित शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना

शाह ने अजमेर जिले के विजयनगर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, 'एटीएम में कार्ड डालो तो पैसा निकलता है…। इन्होंने पूरे राजस्थान को कांग्रेस पार्टी का एटीएम बना रखा है।

'राजस्थान को पार्टी का एटीएम बना दिया', अमित शाह ने कांग्रेस पर साधा निशाना
Swati Kumariभाषा,जयपुरFri, 17 Nov 2023 10:57 PM
ऐप पर पढ़ें

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए शुक्रवार को कहा कि राजस्थान में सत्तारूढ़ दल ने पूरे राज्य को पार्टी का एटीएम बना रखा है। शाह ने अजमेर जिले के विजयनगर में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, 'एटीएम में कार्ड डालो तो पैसा निकलता है…। इन्होंने पूरे राजस्थान को कांग्रेस पार्टी का एटीएम बना रखा है। कांग्रेस पार्टी को जब भी पैसा चाहिए, उनके नेता दिल्ली से आकर कार्ड डालते हैं और पैसा निकाल कर ले जाते हैं।'
    
उन्होंने आरोप लगाया कि अपराध, तुष्टिकरण और महिलाओं एवं दलितों से अत्याचार में भी राजस्थान पहले नंबर पर रहा है। उन्होंने कहा, ''आज राजस्थान भ्रष्टाचार में नंबर वन है। राजस्थान महिला के साथ दुष्कर्म, साइबर अपराध, बिजली दर में, महंगाई के सूचकांक में, पेट्रोल-डीजल के दाम में, पेपर लीक में और मंडी के कर में भी नंबर वन है।''
    
उन्होंने दावा किया कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरकार ने राजस्थान के लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है।उन्होंने कहा, ''अगर कांग्रेस सत्ता में वापस आती है, तो प्रतिबंधित पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) जैसे संगठनों को खुली छूट मिल जाएगी और राजस्थान कभी सुरक्षित नहीं रहेगा।''
    
भाजपा नेता ने कहा, ''कांग्रेस पार्टी ने तुष्टिकरण की इंतेहा कर दी है.. इतने वर्षों से कांग्रेस पार्टी राम मंदिर के मुद्दे को लटका रही थी.. अटका रही थी.. भटका रही थी.. (प्रधानमंत्री नरेन्द्र) मोदी जी आये .. मोदी जी ने राम जन्म भूमि के मुद्दे को समाप्त किया और वहां भूमि पूजन करके मंदिर की नींव रखने का काम किया।''
    
उन्होंने कांग्रेस सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, ''गहलोत सरकार ने वोट बैंक की राजनीति में राजस्थान में सभी सीमाएं लांघ दीं, उदयपुर में कन्हैया लाल की दिन दहाड़े हत्या की गई लेकिन उनके मुंह से एक लफ्ज नहीं निकला।'' दो हथियारबंद लोगों ने इस्लाम के खिलाफ एक सोशल मीडिया पोस्ट का कथित तौर पर समर्थन करने पर उदयपुर के व्यस्त हाथीपोल इलाके में एक दर्जी कन्हैया लाल की उसकी दुकान पर हत्या कर दी थी।
    
शाह ने कहा, ''आने वाले चुनाव में जब आप वोट डालें तो ये मत सोचिए कि आप सिर्फ किसी को विधायक बनाने जा रहे हैं। बल्कि आपका एक वोट मोदी जी के नेतृत्व में डबल इंजन की सरकार बनाने के लिए है।'' उन्होंने राजस्थान में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया।
    
उन्होंने कहा कि राजस्थान में आजादी के बाद से किसी भी सरकार ने इतना भ्रष्टाचार नहीं किया होगा, जितना गहलोत ने पांच साल में किया है। शाह ने आरोप लगाया कि 66,000 करोड़ रुपये का खनन घोटाला, पट्टे देने में 1,000 करोड़ रुपये का घोटाला, 1,000 करोड़ रुपये का राशन घोटाला समेत अन्य घोटाले हुए हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी राहुल गांधी को 'लॉन्च'' करना चाहती हैं जबकि अशोक गहलोत अपने बेटे वैभव गहलोत को ''लॉन्च'' करना चाहते हैं लेकिन ''उनकी लॉन्चिंग फेल हो गई हैं।''
    
उन्होंने मोदी सरकार की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सरकार ने देश की रक्षा के लिए काम किया, जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाया, पीएफआई पर प्रतिबंध लगाया। उन्होंने कहा कि पीएफआई के लोग देश में तो सामने नहीं आ सके लेकिन राजस्थान के कोटा में उन्होंने रैली निकाली। उन्होंने लाल डायरी मामले को लेकर मुख्यमंत्री पर हमला बोलते हुए दावा किया कि लाल डायरी में हजारों करोड़ के घोटालों का हिसाब-किताब है।
    
राजस्थान के बर्खास्त मंत्री राजेंद्र गुढ़ा ने दावा किया था कि उनके पास एक लाल डायरी है जिसमें मुख्यमंत्री गहलोत के अवैध वित्तीय लेनदेन का विवरण है। शाह ने कहा कि कांग्रेस एक वंशवादी पार्टी है। उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत सरकार रिसॉर्ट्स से चलती है। उन्होंने तत्कालीन उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की बगावत के बाद 2020 में राज्य में राजनीतिक संकट की ओर इशारा करते हुए कहा, 'जो लोग अपनी सरकार नहीं बचा सकते, वे हमारी सीमाओं की क्या रक्षा कर सकते हैं?  भाजपा नेता ने बाद में नसीराबाद में भी जनसभा की और अजमेर में रोड शो किया। राज्य में 25 नवंबर को मतदान होगा और नतीजे तीन दिसंबर को घोषित किए जाएंगे।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें