ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानअपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को घर पर दवाएं पहुंचाएगी राजस्थान सरकार, सीएम का ऐलान

अपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को घर पर दवाएं पहुंचाएगी राजस्थान सरकार, सीएम का ऐलान

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने ऐलान किया है कि राजस्थान सरकार अपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को घर पर ही दवाइयां उपलब्ध कराएगी। इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए गए हैं। पढ़ें यह रिपोर्ट...

अपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को घर पर दवाएं पहुंचाएगी राजस्थान सरकार, सीएम का ऐलान
Krishna Singhभाषा,जयपुरWed, 12 Jun 2024 12:34 AM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान सरकार अपने कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को घर पर ही दवाइयां उपलब्ध कराएगी। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने यह ऐलान किया है। सीएम ने मंगलवार को एक बैठक में अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश भी जारी कर दिए। सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार, राज्य सरकार राजस्थान सरकार स्वास्थ्य योजना (आरजीएचएस) के अंतर्गत राजस्थान राज्य सहकारी उपभोक्ता संघ के माध्यम से कर्मचारियों-पेंशनभोगियों को दवाइयों की होम डिलिवरी करेगी। 

आधिकारिक बयान के मुताबिक, यह काम जल्द ही पायलट परियोजना के आधार पर शुरू किया जाएगा। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि वित्त विभाग द्वारा इंटीग्रेटेड फाइनेंस मैनेजमेंट सिस्टम (आईएफएमएस) 3.0 में भी कर्मचारियों को कई आनलॉइन सुविधा दी जा रही है। इसी प्रणाली के जरिए कार्मिक जीपीएफ आहरण करने के साथ ही राज्य बीमा कर्ज ले सकेंगे।

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने मंगलवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में बजट घोषणा 2024-25 (लेखा-अनुदान), सौ दिवसीय कार्य योजना एवं उनके द्वारा की गई घोषणाओं की क्रियान्विति पर आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने के मौके पर यह बात कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सुशासन का मॉडल स्थापित करके आमजन की सेवा करना राज्य सरकार का प्रमुख ध्येय है।

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि घोषणाओं से संबंधित कार्य किसी भी स्तर पर लंबित न रहें तथा संबंधित अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाए। मुख्यमंत्री ने गृह विभाग की लाडली सुरक्षा योजना की विस्तृत समीक्षा करते हुए कहा कि बालिकाओं-महिलाओं की सुरक्षा राज्य सरकार का प्रमुख ध्येय है।

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने बताया कि इसी को ध्यान में रखते हुए योजनान्तर्गत प्रदेशभर में सार्वजनिक स्थलों, बालिका छात्रावासों एवं नारी निकेतनों पर प्राथमिकता से सीसीटीवी कैमरे लगाये जा रहे हैं। अब तक 11 हजार 570 कैमरे लगाए भी जा चुके हैं। बैठक में मुख्य सचिव सुधांश पंत, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव शिखर अग्रवाल सहित कई अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।