DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानसिर्फ चाहने से कुछ नहीं होता... राजस्थान में BJP के सीएम कैंडिडेट पर वसुंधरा राजे ने तोड़ी चुप्पी

सिर्फ चाहने से कुछ नहीं होता... राजस्थान में BJP के सीएम कैंडिडेट पर वसुंधरा राजे ने तोड़ी चुप्पी

लाइव हिन्दुस्तान ,जयपुरSurya Prakash
Sat, 23 Oct 2021 07:48 AM
सिर्फ चाहने से कुछ नहीं होता... राजस्थान में BJP के सीएम कैंडिडेट पर वसुंधरा राजे ने तोड़ी चुप्पी

राजस्थान में भले ही विधानसभा चुनाव अभी करीब दो साल दूर हैं, लेकिन भाजपा में अंदरखाने सीएम पद के चेहरे के लिए दावेदारी तेज है। प्रदेश की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे हमेशा से एक प्रबल दावेदार रही हैं, लेकिन केंद्रीय नेतृत्व से उनके रिश्तों को लेकर कयास लगते रहे हैं। इस बीच उन्होंने सीएम पद के दावेदारों को लेकर अहम टिप्पणी की है। वसुंधरा राजे ने भाजपा की ओर से सीएम फेस के सवाल पर टिप्पणी करते हुए कहा, 'ऐसा सिर्फ चाहने से ही नहीं होता है। राज्य का अगला मुख्यमंत्री वही होगा, जिसे छत्तीस कौम (यानी सभी समुदाय) का प्यार मिलेगा।'

उन्होंने कहा कि मैंने कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वे 2023 के विधानसभा और 2024 के लोकसभा चुनावों के लिए तैयार हो जाएं। यदि उनकी तैयारी मजबूत होगी, तभी वे फील्ड पर उतर पाएंगे। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शुक्रवार को कहा कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री वह बनेगा, जिसे जनता पसंद करेगी। उन्होंने कहा कि सभी समुदाय प्रेम पाने के अधिकारी हैं और सिर्फ वही व्यक्ति शासन कर सकता है, जिसे बदले में सभी का प्यार मिल रहा हो। वसुंधरा राजे केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की मां और पूर्व राज्य मंत्री महिपाल मदेरणा के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए गुरुवार को दो दिन के प्रवास पर जोधपुर पहुंची थीं। 

जनता क्या चाहती है, यह महत्वपूर्ण है

यहां सर्किट हाउस में ठहरीं राजे ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के गृह जिले में भाजपा की स्थिति को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत की और स्थानीय नेताओं के साथ बैठक की। गहलोत जोधपुर जिले की सरदारपुरा सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। राजस्थान में मुख्यमंत्री पद के दावेदारों की संख्या के संबंध में सवाल करने पर राजे ने कहा, यह सिर्फ चाहने से नहीं होता। जनता क्या चाहती है, वह अधिक महत्वपूर्ण है। 

कांग्रेस तो है डूबता हुआ जहाज, अंदरूनी लड़ाई में ही बिजी

कांग्रेस को 'डूबता हुआ जहाज' बताते हुए राजे ने कहा कि राज्य में सत्तारूढ़ दल की स्थिति और अंदरूनी लड़ाई देखकर उन्हें ऐसा ही लग रहा है। राजे ने भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं से मुलाकात करते हुए उनसे राजस्थान विधानसभा और लोकसभा में अगले चुनावों की तैयारियां करने को कहा। उन्होंने कहा, मैंने सभी कार्यकर्ताओं से तैयार रहने को कहा, क्योंकि 2023 (राजस्थान विधानसभा) और 2024 (लोकसभा) चुनावों के लिए बिगुल बजने वाला है। मैंने उनसे पूरी ताकत के साथ सामने आने को कहा है।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें