ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानयोगी आदित्यनाथ के करीबी, 2019 में लड़ा पहला लोकसभा चुनाव; कौन हैं बाबा बालकनाथ जो बने सीएम फेस की पसंद

योगी आदित्यनाथ के करीबी, 2019 में लड़ा पहला लोकसभा चुनाव; कौन हैं बाबा बालकनाथ जो बने सीएम फेस की पसंद

Rajasthan Exit Poll: एक्सिस माइ इंडिया एग्जिट पोल सर्वे में लोगों ने सीएम पद के लिए अशोक गहलोत को अपनी पहली पसंद बताया है। वहीं, दूसरे नंबर पर राजस्थान की जनता ने एक चौंकाने वाला नाम का जिक्र किया है।

योगी आदित्यनाथ के करीबी, 2019 में लड़ा पहला लोकसभा चुनाव; कौन हैं बाबा बालकनाथ जो बने सीएम फेस की पसंद
Swati Kumariलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 01 Dec 2023 04:27 PM
ऐप पर पढ़ें

Rajasthan Exit Polls: राजस्थान विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल के नतीजे सामने आ चुके हैं। एग्जिट पोल के मुताबिक, एबीपी, टाइम्स नाउ और आज तक के सर्वे में बीजेपी को पू्र्ण बहुमत मिलता नजर आ रहा है। जबकि इंडिया टीवी और न्यूज 24 के अनुसार, राज्य में दोबारा अशोक गहलोत की सरकार बनती दिखाई दे रही है। वहीं, एक्सिस माइ इंडिया एग्जिट पोल के सर्वे के मुताबिक, राज्य में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर भी जनता से सवाल किए। एक्सिस माइ इंडिया एग्जिट पोल सर्वे में लोगों ने सीएम पद के लिए अशोक गहलोत को अपनी पहली पसंद बताया है। वहीं, दूसरे नंबर पर राजस्थान की जनता ने एक चौंकाने वाला नाम का जिक्र किया है। 

दरअसल, सर्वे में शामिल में दूसरे लोगों की पसंद न वसुंधरा राजे और न ही सचिन पायलट हैं, बल्कि बतौर सीएम लोगों की दूसरी पसंद अलवर से सांसद महंत बालकनाथ योगी हैं। सर्वे के मुताबिक, 32 फीसदी के लोग अशोक गहलोत को सीएम पद पर देखना पसंद करते हैं। वहीं, 10 फीसदी लोग महंत बालकनाथ योगी को सीएम बनते देखना चाहते हैं। जबकि 9 प्रतिशत लोग वसुंधरा राजे को बतौर सीएम देखना पसंद करते हैं।

बता दें कि बीजेपी ने अलवर से सांसद बाबा बालकनाथ को टिकट दे मैदान में उतारा है। बाबा बालकनाथ 'राजस्थान का योगी' के नाम से जाना जाता हैं। बीजेपी ने बाबा बालकनाथ को तिजारा से चुनावी टिकट दिया है। राजस्थान के अलवर से सांसद बाबा बालकनाथ मस्तनाथ मठ के महंत हैं। इसके चलते उनकी ड्रैसिंग स्टाइल यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलती है। भगवा कपड़ों ने रहने वाले महंत बालक नाथ को बीजेपी के फायरब्रांड नेताओं में से एक माना जाता है। वह हिंदुत्व एजेंडे पर अपने आक्रामक रुख के कारण सुर्खियों में बने रहते हैं। अपने फायर ब्रांड वाली छवि के चलते वह आमजन में काफी फेमस हैं। बाबा बालकनाथ ओबीसी कैटेगरी से आते हैं। 

गौरतलब है कि साल 2019 के लोकसभा चुनावों में अलवर से कांग्रेस के दिग्गज नेता भंवर जितेंद्र सिंह को हराया था। इसके बाद बाबा बालकनाथ पहली बार सांसद बने। हाल ही में बालक नाथ तब चर्चा में आए, जब उन्होंने राजस्थान पुलिस के डीएसपी को थाने में घुसकर धमका दिया। बीजेपी कार्यकर्ता को हिरासत में लेने से नाराज सांसद ने डीएसपी से कहा था- मेरा नाम याद रखना। मेरी सूची में तीन लोग हैं, एक तो यहां के विधायक, पुराने थानेदार और अब आप भी मेरी लिस्ट में हैं।  

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें