ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानवर्ल्ड कप जीत जाते, लेकिन पनौती ने हरवा दिया- राजस्थान के जालौर में बोले राहुल गांधी

वर्ल्ड कप जीत जाते, लेकिन पनौती ने हरवा दिया- राजस्थान के जालौर में बोले राहुल गांधी

राजस्थान के जालौर में राहुल गांधी ने कहा कि हमारे लड़के क्रिकेट विश्व कप जीत जाते लेकिन पनौती ने हरवा दिया।जनसभा में कुछ लोग पनौती-पनौती चिल्लाने लगे। इस पर राहुल गांधी ने ये बात कही ।

वर्ल्ड कप जीत जाते, लेकिन पनौती ने हरवा दिया- राजस्थान के जालौर में बोले राहुल गांधी
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरTue, 21 Nov 2023 04:40 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के जालौर में राहुल गांधी ने कहा कि हमारे लड़के क्रिकेट विश्व कप जीत जाते लेकिन पनौती ने हरवा दिया। दरअसल, जनसभा में कुछ लोग पनौती-पनौती चिल्लाने लगे। इस पर राहुल गांधी ने कहा- अच्छा भला वहां हमारे ल़ड़के विश्वकप जीत जाते, लेकिन पनौती ने हरवा दिया। टीवी वाले ये नहीं कहेंगे। लेकिन जनता जानती है। राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी पहले कहते थे कि मैं ओबीसी हूं। हर भाषण में ओबीसी हूं। पिछड़ों का अपमान किया। मेरा अपमान किया। मैं पिछड़ा हूं। उल्लेखनीय है कि भारतीय टीम के विश्वकप हारने के बाद ट्वीटर पर पनौती शब्द ट्रेंड करने लगा है।

राहुल गांधी ने फिर उठाया जातीय जनगणना का मुद्दा

इससे पहले उदयपुर के वल्लभनगर में राहुल गांधी ने प्रदेश में जातीय जनगणना कराने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि हर क्षेत्र में हर वर्ग की भागीदारी के लिए देश में जातीय जनगणना की जरूरत है। पता चलना चाहिए कि कितना धन किस वर्ग के पास है। जातीय जनगणना देश का एक्सरे है। मैंने ये बात पार्लियामेंट में कहा तो मोदी जी का भाषण बदल गया। वो हर जगह कहते थे कि मैं ओबीसी हूं। मोदी जी कहते हैं कि हिंदुस्तान में एक ही जाति है, वो है गरीब। मैं कहता हूं कि दुसरी जात अमीरों की है।

मीडिया में केवल पीएम मोदी का चेहरा दिखता है 

राहुल गांधी ने फिर कहा कि सरकार को भी 90 आईएसएस चलाते हैं। इन 90 में से हर वर्ग को भागीदीरी मिलनी चाहिए। 90 में से 3 अफसर पिछड़ी जाति के हैं। पिछड़ों की आबादी 50 फीसदी। जबकि अफसर सिर्फ 3। इन 3 का भी बजट पर कोई कंट्रोल नहीं। 90 अफसर तय करते हैं कि किस राज्य को कितना धन जाना चाहिए। अरबपति अडानी और आम आदमी दोनों समान जीएसटी दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि फसल बीमा योजना में मोदी सरकार 35 हजार करोड़ उठाके 16 कंपनियों को दे देती है। इन कंपनियों से एक भी पेशा नहीं मिलता। इस बीच उन्होंने मीडिया पर भी बात करते हुए कहा कि मीडिया को मोदी और अडानी चलाते हैं। किसान और मजदूर टीवी पर नहीं दिखते, जबकि शाहरूख खान, ऐश्वर्या राय और क्रिकेट मैच दिख जाएगा। उत्तराखंड में मजदूर फंसे है, लेकिन मीडिया क्रिकेट की बात करती है। मीडिया में केवल पीएम मोदी का चेहरा दिखता है।
 

 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें