ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानRajasthan Election Result LIVE:राजस्थान में नहीं बदला रिवाज, आ गया भाजपा का राज

Rajasthan Election Result LIVE:राजस्थान में नहीं बदला रिवाज, आ गया भाजपा का राज

Rajasthan Election Result LIVE Updates: राजस्थान विधानसभा चुनाव की 199 सीटों के लिए वोटों की गिनती में बीजेपी 114 सीटों पर जीतती दिख रही है। इस तरह से वहां हर 5 साल बाद सरकार बदलने का ट्रेंड बरकरार है

Rajasthan Election Result LIVE:राजस्थान में नहीं बदला रिवाज, आ गया भाजपा का राज
Surya Prakashलाइव हिन्दुस्तान,जयपुरSun, 03 Dec 2023 05:43 PM
ऐप पर पढ़ें

Rajasthan Election Results 2023 LIVE Updates: राजस्थान विधानसभा चुनाव में भाजपा जीत की ओर बढ़ती दिख रही है। भाजपा के 71 उम्मीदवार जीत चुके हैं, जबकि 44 सीट पर पार्टी प्रत्याशी आगे चल रहे हैं।  कांग्रेस ने अब तक 39 सीट पर जीत दर्ज की है और वह 30 पर आगे चल रही है। भाजपा नेता व पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे झालरापाटन सीट से जीत गई हैं। भाजपा के जीतने वाले अन्य उम्मीदवारों में विद्याधर नगर से दीया कुमारी, पिंडवाड़ा आबू से समाराम, मनोहर थाना से गोविंद प्रसाद, बहरोड़ से जसवंत सिंह यादव, जमवारामगढ़ से महेंद्र पाल मीणा, अजमेर दक्षिण से अनिता भदेल और रामगंज मंडी से मदन दिलावर शामिल हैं। कांग्रेस के जीतने वाले उम्मीदवारों में मंत्री शांति धारीवाल व टीकाराम जूली शामिल हैं। पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट टोंक सीट से जीत गए हैं।

भारत आदिवासी पार्टी (बीएपी) के उम्मीदवार राजकुमार रोत ने चोरासी विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज की है। पार्टी ने कुल दो सीट जीती हैं और एक पर आगे है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने एक सीट जीती है, जबकि एक पर आगे है। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) दो सीट पर आगे चल रही है, जबकि निर्दलीय चार सीट पर आगे हैं। तीन निर्दलीय जीत चुके हैं। राज्य की 200 सीट में से 199 पर 25 नवंबर को मतदान हुआ था। करणपुर सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार के निधन के कारण चुनाव स्थगित कर दिया गया था।
    
कई मंत्री हार रहे हैं
इस बार के विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और 25 मंत्री मैदान में थे। शाम तक आए परिणामों के अनुसार, सरकार के मंत्री भंवर सिंह भाटी (कोलायत), गोविंद राम मेघवाल (खाजूवाला), शकुंतला रावत (बानसूर), विश्वेंद्र सिंह (डीग कुम्हेर), रमेश चंद मीणा (सपोटरा), सालेह मोहम्मद (पोकरण) तथा उदयलाल आंजना (निंबाहेड़ा) चुनाव हार गए हैं। कोटा उत्तर से शांति धारीवाल और अलवर ग्रामीण सीट से टीकाराम जूली जीत गए हैं। धारीवाल 2486 मतों से, जबकि जूली 27333 वोटों के अंतर से जीते। 

अशोक गहलोत (सरदारपुरा), अशोक चांदना (हिंडोली), बृजेंद्र ओला (झुंझुनूं), सुभाष गर्ग (रालोद/भरतपुर), मुरारी लाल मीणा (दौसा), अर्जुन सिंह बामनिया (बांसवाड़ा) और महेंद्रजीत सिंह मालवीय (बागीदौरा), मुरारी लाल मीणा (दौसा) आगे चल रहे हैं और उनकी जीत तय है। मंत्रियों में बीडी कल्ला (बीकानेर पश्चिम), जाहिदा खान (कामां), भजन लाल जाटव (वैर), ममता भूपेश (सिकराय), परसादी लाल मीणा (लालसोट), सुखराम विश्नोई (सांचौर), रामलाल जाट (मांडल), प्रमोद जैन भाया (अंता)) पीछे चल रहे हैं। मुख्यमंत्री के छह सलाहकारों में से पांच-संयम लोढ़ा (सिरोही), राजकुमार शर्मा (नवलगढ़), बाबूलाल नागर (दूदू), दानिश अबरार और निरंजन आर्य (पूर्व मुख्य सचिव) भी पीछे चल रहे हैं।

राजस्थान में नहीं बदला रिवाज

सीएम अशोक गहलोत चुनाव अभियान के दौरान लगातार रिवाज बदलने की बात कर रहे थे, पर ऐसा नहीं हुआ। भाजपा ने राजस्थान में वसुंधरा राजे को सीएम फेस नहीं बनाया था। हालांकि उन्हें प्रचार में अहमियत दी गई थी। ऐसे में कयास इस बात के भी हैं कि यदि भाजपा जीतती है तो वसुंधरा राजे से इतर किसी और नेता को भी सीएम बनाया जा सकता है। इस रेस में बाबा बालकनाथ योगी, गजेंद्र सिंह शेखावत जैसे नेताओं के नाम चल रहे हैं। बाबा बालकनाथ योगी को राजस्थान के योगी के रूप में प्रचारित किया जाता रहा है।

गौरतलब है कि राजस्थान में अशोक गहलोत ने बड़े पैमाने पर सरकारी नौकरियां निकाली थीं। इसके अलावा सस्ते सिलेंडर, हेल्थ बीमा जैसी सुविधाओं के भरोसे भी वह जीतने की उम्मीद रख रहे हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें