ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानजेठानी ने देवरानी के दुधमुंहे बच्चे को पिलाया जहर? जानें बाड़मेर के चौंकाने वाले वायरल वीडियो का सच

जेठानी ने देवरानी के दुधमुंहे बच्चे को पिलाया जहर? जानें बाड़मेर के चौंकाने वाले वायरल वीडियो का सच

बाड़मेर जिले के एक गांव में एक महिला द्वारा अपनी देवरानी के बच्चे को कथित तौर पर जहर पिलाने के दावे वाला वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। आइए जानते हैं पुलिस की जांच में यह सही निकला है।

जेठानी ने देवरानी के दुधमुंहे बच्चे को पिलाया जहर? जानें बाड़मेर के चौंकाने वाले वायरल वीडियो का सच
Praveen Sharmaजयपुर। लाइव हिन्दुस्तानFri, 24 May 2024 01:59 PM
ऐप पर पढ़ें

देवरानी-जेठानी में मनमुटाव और झगड़े आमतौर पर हर घर की कहानी हैं। हर तकरार के बावजूद रिश्तों का प्यार और अपनापन हमेशा बरकरार रहता है। देवरानी-जेठानी के ऐसे ही किसी मनमुटाव के बीच राजस्थान के बाड़मेर जिले के एक गांव में एक महिला द्वारा अपनी देवरानी के बच्चे को कथित तौर पर जहर पिलाने के दावे वाला वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। हालांकि, इस वीडियो में कितनी सच्चाई है यह बाड़मेर पुलिस ने साफ कर दिया है।

बाड़मेर जिले के भादरेस गांव का एक बेहद चौंकाने वाला वीडियो गुरुवार सुबह से ही सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। इस वीडियो में ऐसा दावा किया जा रहा है कि एक जेठानी द्वारा अपनी देवरानी के दुधमुंहे मासूम बच्चे को जहर देने की कोशिश की गई। हालांकि, बाड़मेर पुलिस द्वारा की गई इस वायरल वीडियो की जांच-पड़ताल में यह दावा पूरी तरह से गलत निकला।

वायरल वीडियो के मुताबिक, गोद में एक बच्चा लिए एक महिला बिस्तर पर सो रहे मासूम बच्चे के मुंह में दवाई के  ड्रॉपर से किसी चीज की कुछ बूंदें डालती दिख रही है। ऐसा दावा किया जा रहा था कि महिला ने बच्चे को जो पिलाया वह जहर था। पूरी तरह इस घटना से पहले देवरानी कमरें में अपने मोबाइल फोन का कैमरा ऑन करके नहाने गई थी, इसी वजह से यह पूरा वाकया उसमें रिकॉर्ड हो गया। दावा किया जा रहा है कि जहर दिए जाने के बाद बच्चा तीन दिन तक आईसीयू में भर्ती रहा और अब सुरक्षित है।

इस वायरल हुए वीडियो में कहा जा रहा है कि इस घटना से पहले देवरानी के दो और मासूम बच्चों की जहर देने की वजह से मौत हो गई थी। उसके बाद से ही देवरानी को ऐसा शक था कि किसी ने उन्हें जहर देकर मारा है। दोनों बच्चों की मौत के बाद से देवरनानी ने अपने तीसरे बच्चे को बचाने के लिए हर समय उस पर मोबाइल कैमरे के जरिये नजर रखनी शुरू कर दी थी।

जहर के बाद अफीम देने का दावा

वायरल वीडियो के साथ बाद में सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म 'एक्स' पर किए गए दूसरे मैसेज में लिखा, ''अपडेट: यह आरोप लगाया गया कि बच्चे को अफीम दी गई थी। जब बच्चे की हालत बिगड़ गई तो वे बच्चे को बाड़मेर के एक अस्पताल में ले गए, जहां से बच्चे को एमडीएम अस्पताल, जोधपुर रेफर कर दिया गया। अब परिवार कोई कार्रवाई नहीं चाहता और ऐसी कोई घटना होने से इनकार कर रहा है, लेकिन वीडियो मौजूद है और अस्पताल का रिकॉर्ड भी चेक जा सकता है। इस वीडियो को अब तक हजारों लोगों द्वारा रीशेयर और लाइक किया जा चुका है। बता दें कि, लाइव हिन्दुस्तान इस वायरल वीडियो के दावों और सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

बाड़मेर पुलिस ने किया वायरल वीडियो के दावे का खंडन

बाड़मेर पुलिस ने कहा कि इस संबंध में उक्त वीडियो भादरेस निवासी मुकेश प्रजापत के बेटे का बताया जा रहा है। जिस पर मुकेश प्रजापत से मोबाइल से बात की गई तो उसने अपने बेटे के साथ इस प्रकार की कोई भी घटना होने से इनकार किया है। थानाधिकारी पुलिस थाना ग्रामीण द्वारा बच्चे के पिता व दादा से घर पर जाकर उक्त घटना के बारे में विस्तृत अनुसंधान किया गया तो परिजनों ने इस प्रकार की कोई भी घटना नहीं होने की जानकारी दी गई। इस मामले में आगे की जांच की जा रही है।