ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानभजनलाल सरकार करेगी चिरंजीवी योजना और अंग्रेजी स्कूल बंद? बोलीं-वाहवाही के लिए योजनाएं

भजनलाल सरकार करेगी चिरंजीवी योजना और अंग्रेजी स्कूल बंद? बोलीं-वाहवाही के लिए योजनाएं

राजस्थान विधानसभा में आज राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान जमकर हंगामा हुआ। भजनलाल सरकार मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना और महात्मा गांधी अंग्रेजी मीडियम स्कूलों की समीक्षा करेगी। ऐसे संकेत सरकार ने दिए है।

भजनलाल सरकार करेगी चिरंजीवी योजना और अंग्रेजी स्कूल बंद? बोलीं-वाहवाही के लिए योजनाएं
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 19 Jan 2024 03:16 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान विधानसभा में आज राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान जमकर हंगामा हुआ। भजनलाल सरकार मुख्यमंत्री चिरंजीवी योजना और महात्मा गांधी अंग्रेजी मीडियम स्कूलों की समीक्षा करेगी।  राज्यपाल कलराज मिश्र ने अपने अभिभाषण कहा कि वाहवाही लूटने के लिए ये योजनाएं है। आज विधानसभा में राज्यपाल ने कहा कि गहलोत सरकार के घोटालों की भी जांच होगी। हालांकि, गवर्नर ने कहा कि पिछली सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं को बंद नहीं किया जाएगा। गवर्नर ने कहा कि पिछले 5 साल में राज्य का कर्ज 2 लाख करोड़ से ज्यादा हो गया। राजस्थान की 16वीं विधानसभा का पहला सत्र आज से शुरू हुआ।

विपक्ष ने सदन में किया हंगामा 

राज्यपाल कलराज मिश्र के अभिभाषण के साथ ही 16वीं विधानसभा के पहले सत्र का आगाज हुआ। उम्मीद के अनुरुप विपक्ष की ओर से सदन में हंगामा किया गया। राज्यपाल हंगामे के बीच अभिभाषण पढ़ते रहे।इस दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया. इतना ही नहीं अभिभाषण के दौरान आरएलपी के एक मात्र विधायक हनुमान बेनीवाल RPSC को भंग करने की मांग को लेकर वेल में जा घुसे और नारेबाजी करने लगे। अभिभाषण के दौरान रालोपा विधायक हनुमान बेनीवाल ने आरपीएसी को भंग करने की मांग करते हुए हंगामा किया। साथ ही वो हाथों में पोस्टर लेकर लहराते नजर आए। इस दौरान संसदीय कार्य मंत्री जोगाराम पटेल और बेनीवाल में तू तू-मैं मैं भी हुई। इसके बाद बेनीवाल वेल में आकर विरोध करने लगे। बता दें कि हनुमान बेनीवाल ने सत्र शुरू होने से पहले ही सरकार पर RPSC को लेकर वादाखिलाफी का आरोप लगाया थाष बेनीवाल ने कहा था कि भाजपा ने सत्ता में आने से पहले भ्रष्टाचार की जननी बन चुकी RPSC को भंग करने की बात कही थी, लेकिन सत्ता संभालने के बाद इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया।

राज्यपाल कलराज मिश्र ने हंगामे के बीच अभिभाषण पढ़ा

सदन के पहले दिन राज्यपाल कलराज मिश्र ने हंगामे के बीच अभिभाषण पढ़ा। राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ते हुए कहा कि पूर्ववर्ती सरकार के 5 साल के कार्यकाल में भ्रष्टाचार हुआ। हमारी सरकार इस भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाएगी। इसके लिए सीबीआई को राजस्थान में अनुसंधान की छूट दी गई है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार के कार्यों की हम समीक्षा करेंगे। इसके लिए कमेटी बनेगी, जो अपनी रिपोर्ट 3 महीने में मुख्यमंत्री को सौंपेगी। इस दौरान उन्होंने विकसित भारत के संकल्प को भी दोहराया और सरकार के आने वाले समय में किए जाने वाले कार्यों का लेखा जोखा पेश किया। राज्यपाल ने कहा कि पिछली सरकार गौ माता के संरक्षण में निष्क्रिय नजर आई, लेकिन हमारी सरकार गोसंवर्धन के लिए योजनाएं बनाएगी. हम पीएम आवास के साथ ही मुख्यमंत्री आवास योजना को भी शुरू करेंगे, ताकि प्रदेश का कोई भी व्यक्ति आवास से वंचित न रह जाए. साथ ही लोगों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। इसी क्रम में राज्यपाल ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकार ने केंद्र की आयुष्मान योजना की जगह चिरंजीवी योजना चलाकर वाहवाही लूटने की कोशिश की थी, लेकिन अब राज्यवासियों को केंद्र की योजनाओं का लाभ मिलेगा।

अब पेपर लीक और लूट नहीं होगी

राज्यपाल ने अपने अभिभाषण में पिछली सरकार को घेरते हुए कहा कि राज्य सरकार साइबर और महिला अपराधों को रोकने का काम करेगी, पुलिस बल में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के प्रयास किए जाएंगे।साथ ही घुमंतू समुदाय के मूलभूत दस्तावेजों को तैयार करने के लिए मदद करेगी और उन्हें आवास, स्वास्थ्य बीमा समेत मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराने के प्रयास किए जाएंगे. मिश्र ने कहा कि यह सरकार सबको साथ लेकर विकसित राजस्थान के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबद्ध है। पिछली सरकार की ओर से किसानों की कर्ज माफी की बात कही गई, लेकिन किसानों की जमीन की कुर्की कर दी गई। उन्होंने कहा कि वो विद्यार्थियों को विश्वास दिलाना चाहते हैं कि अब पेपर लीक और लूट नहीं होगी। पिछली सरकार के दौरान 5 साल में भ्रष्टाचार चरम पर रहा। आईटी डिपार्टमेंट में सोने और नकदी बरामद हुई। भ्रष्टाचार के मामलों में सीबीआई को अनुसंधान करने से रोका गया, जिससे भ्रष्टाचार को प्रोत्साहन मिला. हालात ऐसे थे कि अभियोजन स्वीकृति तक नहीं दी गई. हमारी सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए सीबीआई अनुसंधान की शक्ति बहाल कर दी है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें