राजस्थान के 15 जिलों में हुई बारिश, आज ओले गिरने की चेतावनी, येलो अलर्ट जारी

राजस्थान में शीतलहर जारी है। शनिवार सुबह राजधानी जयपुर समेत एक दर्जन से अधिक जिले कोहरे की आगोश में रहे। शुक्रवार की रात के राज्य के 15 जिलों में बारिश हुई। बारिश से ठंड़ और बढ़ गई है। मौसम विभाग ने...

offline
लाइव हिंदुस्तान , जयपुर Prem Meena
Last Modified: Sat, 22 Jan 2022 12:45 PM

राजस्थान में शीतलहर जारी है। शनिवार सुबह राजधानी जयपुर समेत एक दर्जन से अधिक जिले कोहरे की आगोश में रहे। शुक्रवार की रात के राज्य के 15 जिलों में बारिश हुई। बारिश से ठंड़ और बढ़ गई है। मौसम विभाग ने शनिवार को एक दर्जन से अधिक जिलों में बारिश के साथ ओले गिरने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग ने 22 जनवरी को जयपुर, अजमेर, सीकर, चूरू औरप झुंझुनूं में ओले गिरने की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग के अधिकारियों के अनुसार 23 से 25 जनवरी के बीच घना कोहरा छाया रहेगा। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार की रात को राजधानी जयपुर, बीकानेर, अजमेर, भरतपुर संभाग के एक दर्जन से अधिक जिलों में बारिश हुई। जयपुर और अलवर में शुक्रवार रात 2 बजे बाद ही बारिश शुरू हो गई। बारिश का दौर शनिवार तड़के तक जारी रहा। अधिकारियों के अनुसार राजधानी जयपुर में पिछले 12 घंटे के दौरान 8MM से ज्यादा पानी बरसा है।

शनिवार को जयपुर में हल्की धूप निकली

मौसम विभाग ने 25 जनवरी तक राज्य के सभी संभागों में घना कोहरा होने की आशंका व्यक्त की है। मौसम विभाग ने राजधानी जयपुर, अजमेर, बीकानेर और भरतपुर संभाग के अंतर्गत आने वाले जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। शनिवार सुबह कुछ देर के लिए राजधानी जयपुर में सूरज निकला, लेकिन बाद में बादलों की ओट में छिप गया। शनिवार को भी जयपुर, अलवर, दौसा, भरतपुर और करौली में बादल छाए रहे। गंगानगर, बीकानेर, चूरू, अजमेर, नागौर, सीकर, दौसा, अलवर, करौली, हनुमानगढ़ समेत कई जगह बारिश हुई। सर्दी बढ़ने से लोगों की भी मुश्किलें बढ़ गईं। वहीं, जयपुर के कई इलाकों में शनिवार सुबह भी कोहरा छाया रहा।

23 जनवरी के बाद मौसम शुष्क रहने के आसार

जयपुर मौसम केन्द्र के मुताबिक 23 जनवरी से प्रदेश में मौसम साफ होने लगेगा। हालांकि अजमेर, बीकानेर, जयपुर, भरतपुर और कोटा संभाग के कई जिलों में 23 से 25 जनवरी तक घना कोहरा छाने की आशंका है। इसके लिए बाकायदा मौसम केंद्र जयपुर ने यलो अलर्ट जारी किया। कृषि विभाग के अधिकारियों ने ओला गिरने की स्थिति में किसानों को अपनी फसल की देखभाल करने की सलाह दी है।

ऐप पर पढ़ें