ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानराजस्थान कांग्रेस की राजनीतिक मामलों की समिति घोषित, इन नेताओं को मिली जगह

राजस्थान कांग्रेस की राजनीतिक मामलों की समिति घोषित, इन नेताओं को मिली जगह

राजस्थान कांग्रेस की राजनीतिक मामलों की समिति घोषित कर दी गई है। एआईसीसी ने आदेश जारी किए है। समिति में पूर्व सीएम अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा समेत पायलट को जगह मिली है।

राजस्थान कांग्रेस की राजनीतिक मामलों की समिति घोषित, इन नेताओं को मिली जगह
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSun, 07 Jan 2024 03:11 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान कांग्रेस की राजनीतिक मामलों की समिति घोषित कर दी गई है। एआईसीसी ने आदेश जारी किए है। समिति में पूर्व सीएम अशोक गहलोत, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा समेत सचिन पायलट को जगह मिली है।वरिष्ठ नेता मोहन प्रकाश, भंवर जितेंद्र सिंह, महेंद्र जीत सिंह मालवीय. सीपी जोशी, हरीश चौधरी, रामलाल जाट, प्रमोद जैन भाया, प्रताप सिंह खाचरियावास, ममता भूपेश, 
भजनलाल जाटव, मुरारी लाल मीणा, अशोक चांदना, नीरज डांगी, जुबैर खान, धीरज गुर्जर, राजकुमार शर्मा, रोहित बोहरा, इंदिरा मीणा,ललित यादव, शिमला देवी नायक और डूंगरराम गैदर को शामिल किया गया है।  कुल 24 सदस्यों को जगह मिली है। 

गहलोत गुट का दबदबा

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी द्वारा जारी सूची के अनुसार जिन नामों को जगह मिली है उससे साफ जाहिर है कि समिति में अशोक गहलोत गुट का दबदबा है। गहलोत गुट के नेताओं को जगह मिली है। समिति में हारे हुए पूर्व कैबिनेट मंत्रियों को भी जगह मिली है। ललित यादव को जगह मिलना काफी चौंकाने वाला है। क्योंकि ललित यादव पहली बार विधायक बने है। अलवर के मुंडावर से शानदार जीत हासिल की है। माना जा रहा है कि भंवर जितेंद्र सिंह की पैरवी पर ललित यादव को जगह मिली है। माना यह भी जा रहा है कि भंवर जितेंद्र सिंह के गुट के नेताओं को राजनीतिक नियुक्तियां मिल सकती है। 

जातीय समीकरणों का रखा पूरा ध्यान

राजस्थान में हार के बाद कांग्रेस ने समिति में जातीय समीकरणों को पूरा ध्यान रखा है। समिती में कांग्रेस के कोर बैंक मीणा, जाट और ,एससी का पूरा ध्यान रखा है। हार के बावजूद ममता भूपेश बैरवा और भजनलाल जाटव को जगह मिली है। जबकि पायलट कैंप के माने जाने वाले मुरारी लाल मीणा को जगह मिली है। इसी प्रकार इंदिरा मीणा को भी जगह मिली है। समिति में पूर्वी राजस्थान का दबदबा दिखाई दे रहा है। बता दें विधानसभा चुनाव में पूर्वी राजस्थान में कांग्रेस का प्रदर्शन ठीक रहा था था। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें