ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानचोरी में लेता था महिलाओं-बच्चों की मदद, जंगल में 4 किमी तक पीछाकर पुलिस ने किया अरेस्ट; राजस्थान के शातिर 'शतकवीर चोर' की कहानी

चोरी में लेता था महिलाओं-बच्चों की मदद, जंगल में 4 किमी तक पीछाकर पुलिस ने किया अरेस्ट; राजस्थान के शातिर 'शतकवीर चोर' की कहानी

आरोपी उदयपुर के गोवर्धनविलास थाने का हिस्ट्रीशीटर है, जिसके खिलाफ 15 केस दर्ज हैं। कुछ मामलों में उसे सजा भी हो चुकी है। सूने मकानों की रेकी कर उनमें वारदात को अंजाम देने का मास्टरमाइंड है।

चोरी में लेता था महिलाओं-बच्चों की मदद, जंगल में 4 किमी तक पीछाकर पुलिस ने किया अरेस्ट; राजस्थान के शातिर 'शतकवीर चोर' की कहानी
Vishva Gauravलाइव हिंदुस्तान,उदयपुर।Thu, 26 May 2022 08:15 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/

एक चोर जिसने चोरी की 100 वारदतों को अंजाम देकर चोरी करने का शतक लगाया है। राजस्थान की डूंगरपुर पुलिस ने इस शातिर चोर को एक डॉक्टर के सूने मकान से 25 लाख रुपये की कीमत के जेवर चोरी करने के मामले में गिरफ्तार किया है। सूने मकान की रेकी करने और चोरी की वारदात को अंजाम देने में चोरी करने की जबरदस्त टाइमिंग है। वो चोरी के मामले में पहले भी पकड़ा गया और कई मामलों उसे सजा भी हो चुकी है। डूंगरपुर की कोतवाली थाना पुलिस ने इस शातिर चोर को गिरफ्तार किया है जो उदयपुर का रहने वाला है।

पुलिस के हत्थे चढ़े इस चोर का नाम मगन उर्फ गदेड़ी कालबेलिया (28) है। इसको पुलिस ने सिरोही के जंगलों से चार किमी तक पीछा कर गिरफ्तार किया है। आरोपी ने राजस्थान व गुजरात में 100 से अधिक चोरी की वारदातें करना कबूल किया है। अभियुक्त ने डूंगरपुर के बैंकर्स स्ट्रीट में किराये के मकान में रहने वाले डूंगरपुर मेडिकल कॉलेज के डॉ. प्रशांत हिसालकर के घर चोरी की वारदात को अंजाम दिया और 25 लाख रुपये के जेवर चोरी कर ले गया। डॉ. प्रशांत की रिपोर्ट के मुताबिक वह 13 अप्रैल को मेडिकल कॉलेज से सीधे ही उदयपुर होते हुए बेटी से मिलने के लिए कोटा गए थे। 19 अप्रैल को लौटे तब मकान के ताले टूटे थे और तिजोरी में रखे सोने चांदी के जेवर गायब थे। इसकी रिपोर्ट उन्होंने कोतवाली थाने में दर्ज करवाई।

ऐसे पकड़ा गया शातिर चोर 
एसपी सुधीर जोशी ने बताया कि घटना के बाद कोतवाली सीआई दिलीपदान, हेड कॉन्स्टेबल धर्मेंद्र सिंह, कॉन्स्टेबल महन लाल, मनिंदर सिंह, साइबर सेल से अभिषेक, राहुल, जोगेंद्र सिंह और हेमेंद्र सिंह की टीम ने जांच शुरू की। पुलिस ने करीब 45 किमी के दायरे में सीसीटीवी फुटेज खंगाले। इस दौरान शातिर चोर मगन उर्फ गदेड़ी कालबेलिया (28) के बारे में पता लगा। तकनीकी अनुसंधान से मालूम हुआ कि वो सिरोही के जंगलों में छुपा है। पुलिस के पहुंचने पर वो पुलिस के सामने तो आया, लेकिन भागने लगा। पुलिस ने चार किमी तक उसका पीछा कर पकड़ा।

उदयपुर में गोवर्धनविलास थाने का हिस्ट्रीशीटर है और 15 केस दर्ज हैं
आरोपी उदयपुर के गोवर्धनविलास थाने का हिस्ट्रीशीटर है, जिसके खिलाफ 15 केस दर्ज हैं। कुछ मामलों में उसे सजा भी हो चुकी है। सूने मकानों की रेकी कर उनमें वारदात को अंजाम देने का मास्टरमाइंड है। चोरी करते वक्त वह मोबाइल को साथ नहीं रखता है ताकि पुलिस को लोकेशन का पता नहीं चल सके। वारदात करते समय वो महिलाओं व बच्चों को साथ रखता है और उनकी मदद लेता है।

epaper