ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानराजस्थान से मोदी कैबिनेट में 4 मंत्री, गजेंद्र सिंह शेखावत ने तीसरी बार मंत्री पद की शपथ ली

राजस्थान से मोदी कैबिनेट में 4 मंत्री, गजेंद्र सिंह शेखावत ने तीसरी बार मंत्री पद की शपथ ली

राजस्थान के चार सांसदों को मोदी ने मंत्री बनाया है। गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, भागीरथ चौधरी और भूपेंद्र यादव ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली है, अजमेर सांसद भागीरथ चौधरी नया नाम है

राजस्थान से मोदी कैबिनेट में 4 मंत्री, गजेंद्र सिंह शेखावत ने तीसरी बार मंत्री पद की शपथ ली
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSun, 09 Jun 2024 08:25 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के चार सांसदों को मोदी ने मंत्री बनाया है। गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, भागीरथ चौधरी और भूपेंद्र यादव ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली है। अजमेर सांसद भागीरथ चौधरी नया नाम है। जबकि तीनों सांसद रिपीट हुए है। गजेंद्र सिंह शेखावत पर पीएम मोदी ने फिर भरोसा जताया है।  पूर्व सीएम अशोक गहलोत के गृह जिले जोधपुर से तीसरी बार सांसद बने है। 1 लाख 15 हजार 677 वोटों से चुनाव जीता। कांग्रेस के करण सिंह को हराया है। राजस्थान में मारवाड़ का बड़ा राजपूत चेहरा। राजस्थान में बीजेपी का सांगठनिक संतुलन बनाने वाला चेहरा। जोधपुर लोकसभा सीट से जीत की हैट्रिक लगाने के बाद गजेन्द्र सिंह शेखावत मोदी कैबिनेट में तीसरी बार मंत्री बनने की हैट्रिक लगाई है।  रविवार को पीएम हाउस में आयोजित टी पार्टी में शामिल होने के बाद शेखावत ने अपने निवास पर मीडिया से बातचीत में तीसरी बार मंत्री बनाए जाने पर प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया।

 गजेन्द्र सिंह शेखावत का जीवन परिचय 
पिता- शंकरसिंह शेखावत (सेवानिवृत्त अतिरिक्त मुख्य अभियंता, जलदाय विभाग)। माता : स्वर्गीय श्रीमती मोहनकंवर। धर्मपत्नी : श्रीमती नोनद कंवर। बच्चे : दो पुत्री व एक पुत्र। जन्मतिथि : 3 अक्टूबर 1967। जन्मस्थान  : जैसलमेर (राजस्थान)।  मूल निवास : महरौली, जिला सीकर (राजस्थान)।  शिक्षा : एमए दर्शन शास्त्र, एमफिल (जेएनवीयू, जोधपुर)राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से बचपन से ही जुड़ाव। स्वदेशी जागरण मंच के सह संयोजक और राजस्थान के सीमा क्षेत्र में विकास के लिए समर्पित सीमा जनकल्याण समिति के महासचिव रहे। सीमा जन कल्याण समिति में रहते हुए राजस्थान में भारत-पाकिस्तान सीमा क्षेत्र में करीब 40 स्कूल और चार छात्रावास खुलवाने का श्रेय।

 राजनीतिक जीवन

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के टिकट पर 1992 में जेएनवीयू, जोधपुर में छात्रसंघ अध्यक्ष का चुनाव लड़ा और जीत हासिल की।वर्ष 2014 में सक्रिय राजनीति में प्रवेश। जोधपुर से भाजपा के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ा। कांग्रेस प्रत्याशी और जोधपुर राजपरिवार की चंद्रेश कुमारी को 4.10 लाख वोटों से पराजित किया। 2017 में केन्द्रीय कृषि राज्यमंत्री का दायित्व मिला। उसे बखूबी निभाया।वर्ष 2019 में जोधपुर सीट पर फिर से लोकसभा चुनाव लड़ा और कांग्रेस के कद्दावर नेता व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सुपुत्र वैभव गहलोत को करीब 2.74 लाख वोटों के बड़े अंतर से पराजित किया। दूसरे कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कैबिनेट मंत्री के रूप में नवगठित जलशक्ति मंत्रालय का जिम्मा सौंपा।जोधपुर लोकसभा सीट से लगातार तीसरी बार चुनाव जीते, कांग्रेस प्रत्याशी करण सिंह उचियारड़ा को 1.15 लाख से अधिक वोटों से पराजित किया।  मोदी 1.0 में कृषि राज्यमंत्री बने। मोदी 2.0 में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री बने। 

सांगठनिक अनुभव

भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव रहे। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में 35 सीटों का दायित्व मिला। पंजाब में भाजपा के राज्य प्रभारी रहे। राष्ट्रपति चुनाव में राष्ट्रपति चुनाव प्रबंधन कमेटी के संयोजक बनाए गए। राजस्थान विधानसभा चुनाव में स्टार प्रचार रहे।  सोशल मीडिया पर बेहद लोकप्रिय। फेसबुक पर 14 लाख से अधिक और टि्वटर पर 5.88 लाख से अधिक फॉलोवर्स।जल, पर्यावरण, इतिहास, राजनीति, विदेश नीति, कृषि आदि से जुड़े विषयों पर घंटों बातें कर सकते हैं। जल और कृषि पर विशेषज्ञता।अंग्रेजी, हिन्दी और मायड़ भाषा राजस्थानी पर समान रूप से पकड़। धाराप्रवाह उद्बोधन देने वाले प्रखर वक्ताओं में शामिल। राजस्थानी में ओजस्वी भाषण देने के लिए प्रसिद्ध। सादगी पसंद व्यक्तित्व के धनी, अक्सर दिल्ली मेट्रो से सफर कर कार्यालय जाते हैं। बॉस्केटबॉल और बैडमिंटन के अच्छे खिलाड़ी। वर्तमान में राजस्थान बैडमिंटन एसोसिएशन के अध्यक्ष।