ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानPali News: पाली में कांस्टेबल ने थाने में किया सुसाइड, खुद को मारी गोली; सामने आई ये वजह

Pali News: पाली में कांस्टेबल ने थाने में किया सुसाइड, खुद को मारी गोली; सामने आई ये वजह

राजस्थान के पाली जिले में कांस्टेबल ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के मुताबिक भरत चौधरी पाली के औद्योगिक थाने में तैनात था। उसका अपनी पत्नी से विवाद चल रहा था। जांच जारी है।

Pali News: पाली में कांस्टेबल ने थाने में किया सुसाइड, खुद को मारी गोली; सामने आई ये वजह
suicide
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरWed, 12 Jun 2024 09:25 AM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के पाली जिले में कांस्टेबल ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस के मुताबिक भरत चौधरी पाली के औद्योगिक थाने में तैनात था। उसका अपनी पत्नी से विवाद चल रहा था। बताया जा रहा है कि दोनों पति-पत्नी अलग रहते थे। घटना की सूचना मिलते ही एसपी चुनाराम जाट एडिशनल एसपी विपिन शर्मा सहित तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे। बाद में सिपाही का शव पाली के बांगड़ अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। बताया जाता है कि मृतक सिपाही की पत्नी भी पुलिस में नौकरी करती है।उसकी पत्नी पुलिस में पहले से नौकरी कर रही है। भरत चौधरी 2015 में पुलिस में भर्ती हुआ था। पिछले कई दिनों से पति-पत्नी के बीच में अनबन चल रही थी, जिसकी वजह से वह तनाव में था। भरत चौधरी पति-पत्नी दोनों लंबे समय से अलग-अलग रह रहे थे। संभावना जताई जा रही है कि इसीलिए उसने आत्महत्या की। फिलहाल पुलिस जांच के बाद स्पष्ट हो पाएगा कि क्या कारण रहा, जो सिपाही भरत चौधरी ने आत्महत्या की।

आज हम हैं, कल हमारी याद रहेगी... स्टेटस लगाया

सुसाइड करने से पहले भरती चौधरी ने स्टेटस लगाया। आज हम हैं, कल हमारी याद रहेगी... स्टेटस लगाया। औद्योगिक थाना प्रभारी पाना चौधरी ने बताया कि देर रात को भरत चौधरी थाने के पहरे पर तैनात था। उसी दौरान थाने से फोन आया की संतरी भरत चौधरी ने अपनी राइफल से खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है।  घटना की सूचना उन्होंने भरत चौधरी के परिवार को भी दी। जिस पर भरत चौधरी का परिवार भी रात को थाने पहुंचा। भरत के शव को पाली के बांगड़ अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट के साथ-साथ इस आत्महत्या प्रकरण की जांच करेगी। बताया जाता है कि हमेशा हंसमुख रहने वाला भरत चौधरी के इस कदम के बाद में पूरे थाने में शोक की लहर है।