ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानभजनलाल सरकार की प्रस्तावित ट्रांसफर पॉलिसी से भड़के शिक्षक संघ, बताया लॉलीपॉप

भजनलाल सरकार की प्रस्तावित ट्रांसफर पॉलिसी से भड़के शिक्षक संघ, बताया लॉलीपॉप

राजस्थान की भजनलाल सरकार कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए केंद्र की तर्ज पर ट्रांसफर पॉलिसी बनाने जा रही है। शिक्षक संघ नाराज हो गए है। ट्रांसफर पॉलिसी के नाम पर दी जाने वाली लॉलीपॉप का विरोध करेंगे।

भजनलाल सरकार की प्रस्तावित ट्रांसफर पॉलिसी से भड़के शिक्षक संघ, बताया लॉलीपॉप
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 11 Apr 2024 05:02 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान की भजनलाल सरकार कर्मचारियों-अधिकारियों के लिए केंद्र की तर्ज पर ट्रांसफर पॉलिसी बनाने जा रही है। इसके लिए कॉमन एसओपी जारी की गई है। सभी विभागों के एचओडी अधिकारियों से चर्चा कर जरूरत अनुसार सुझाव देंगे। सरकार की कॉमन एसओपी के तहत किसी कर्मचारी का 3 साल से पहले तबादला नहीं होगा। डॉ रनजीत मीणा प्रदेश महामंत्री, राजस्थान शिक्षक संघ एकीकृत ने सरकार के इस निर्णय की आलोचान की है। उन्होंने कहां-  1994 में पूर्व शिक्षा सचिव अनिल बोर्दिया के नेतृत्व में कमेटी बनी थी जिसने ड्राफ्ट तैयार किया कमेटी ने ड्राफ्ट को सरकार को सौंप दिया लेकिन पॉलिसी लागू नहीं हो सकी। उसके बाद  वर्ष 1997- 98 में उसके बाद वर्ष 2000 में उसके बाद वर्ष 2005 में उसके बाद वर्ष 2015 में उसके बाद वर्ष 2020 में सरकार ट्रांसफर पॉलिसी का मसौदा लेकर आई लेकिन वह लागू नहीं हो पाई। अब सरकार ट्रांसफर पॉलिसी का ड्राफ्ट उड़ीसा से लेकर के आई है जो केवल लॉलीपॉप है। 

रंनजीत मीणा ने कहा कि यह ड्राफ्ट केवल कर्मचारियों को लुभाने के लिए लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए लेकर आये हैं। जिस तरह पिछली सरकार ने छोटी लॉलीपॉप दी अब यह बड़ी लॉलीपॉप दे रहे हैं। भजनलाल सरकार के गठन के बाद सरकार ने कहा था सरकार 30 दिन में नई ट्रांसफर पॉलिसी बना करके देगी लेकिन वह तय समय पर नहीं हुआ। राजस्थान शिक्षक संघ एकीकृत पारदर्शी और नई ट्रांसफर पॉलिसी का स्वागत करेगा लेकिन ट्रांसफर पॉलिसी के नाम पर दी जाने वाली लॉलीपॉप का लोकसभा चुनाव के बाद विरोध करेगा। संगठन लोकसभा चुनाव के बाद बड़े आंदोलन की रूपरेखा तैयार कर रहा है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें