ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानराजस्थान कांग्रेस आज राजभवन का करेगी घेराव, संगठन प्रभारी जिलों में विरोध-प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे; जानें वजह 

राजस्थान कांग्रेस आज राजभवन का करेगी घेराव, संगठन प्रभारी जिलों में विरोध-प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे; जानें वजह 

राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ के विरोध में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी आज राजभवन का घेराव करेगी। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह ने कहा प्रदेश में केंद्रीय सरकारी कार्यालयों पर भी प्रदर्शन किए जाएंगे।

राजस्थान कांग्रेस आज राजभवन का करेगी घेराव, संगठन प्रभारी जिलों में विरोध-प्रदर्शन की अगुवाई करेंगे; जानें वजह 
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 16 Jun 2022 07:31 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राहुल गांधी से ईडी की पूछताछ के विरोध में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी आज राजभवन का घेराव करेगी। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह ने कहा प्रदेश के सभी जिलों में केंद्रीय सरकारी कार्यालयों पर भी प्रदर्शन किए जाएंगे। जिलों के प्रभारी मंत्री और संगठन प्रभारी अपने जिलों में पहुंचेंगे और विरोध- प्रदर्शनों की अगुवाई करेंगे। सुबह 11 बजे बड़ी संख्या में कार्यकर्ता एंव नेता राजभवन का घेराव कर मोदी सरकार की दमनकारी नीतियों को विरोध करेंगे। केंद्र सरकार द्वारा राजनीतिक प्रतिशोध से प्रेरित कार्रवाई एवं पुलिस तंत्र के हमले के विरोध में प्रदर्शन किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी जयपुर में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से लेकर ईडी कार्यालय तक पैदल मार्च निकाला गया था। डोटासरा ने आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस नेता और कार्यकर्ताओं को मार रही है। बीजेपी की गु्ंडागर्दी की पराकाष्ठा है। कांग्रेस कार्यकर्ता इसका जवाब देंगे। 

राजस्थान के कांग्रेस नेता सबसे ज्यादा सक्रिय

दिल्ली में चल रहे शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन में राजस्थान के नेता और कार्यकर्ता सबसे ज्यादा सक्रिय हो रहे हैं। कांग्रेस के प्रदर्शन की कमान सीएम अशोक गहलोत संभाल रहे हैं। खास बात यह है कि सीएम गहलोत के नेतृत्व में सबसे ज्याद नेता एवं कार्यकर्ता राजस्थान से ही दिखाई दे रहे हैं।  पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, हरीश चौधरी, रघु शर्मा, भंवर जितेंद्र सिंह, सचिन पायलट और रफीक खान दिल्ली में ही डटे रहे। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा आज राजधानी जयपुर पहुंचकर राजभवन का घेराव करेंगे। 

डोटासरा ने सुस्त नेताओं पर साधा निशाना 

पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने विरोध प्रदर्शन में शामिल नहीं होने वाले कांग्रेस के नेताओं और मंत्रियों पर जमकर निशाना साधा था। डोटासरा ने कहा कि सरकार के बड़े पदों पर बैठे लोग धरने में शामिल होने के लिए अपने गनमैन के साथ आ जाते हैं। यह बिलकुल भी ठीक नहीं है। मलाई खा सकते हैं तो राहुल गांधी के लिए पुलिस के डंडे भी खाने के लिए तैयार रहना चाहिए। डोटासरा की फटकार के बाद गहलोत के मंत्री और विधायक एक्टिव मोड पर नजर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि राजभवन के घेराव में सभी मंत्री शामिल होंगे। 

epaper