ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानबाड़मेर में आधी रात को तेज धमाकों के साथ उल्कापिंड, भारत-पाक बाॅर्डर पर खगोलिया घटना; जानिए क्या है मामला ? -

बाड़मेर में आधी रात को तेज धमाकों के साथ उल्कापिंड, भारत-पाक बाॅर्डर पर खगोलिया घटना; जानिए क्या है मामला ? -

राजस्थान में एक बार फिर उल्कापिंड गिरने का दावा किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर इसके कुछ फोटोज भी शेयर किए जा रहे हैं। हालांकि, प्रशासन इसकी आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं की है। लेेकिन तेज धमाका हुआ।

बाड़मेर में आधी रात को तेज धमाकों के साथ उल्कापिंड, भारत-पाक बाॅर्डर पर खगोलिया घटना; जानिए क्या है मामला ? -
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरMon, 29 Apr 2024 10:01 AM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में एक बार फिर उल्कापिंड गिरने का दावा किया जा रहा है। सोशल मीडिया पर इसके कुछ फोटोज भी शेयर किए जा रहे हैं। इन यूजर्स का कहना है कि यह खगोलीय घटना भारत-पाकिस्तान बाॅर्डर पर हुई है।  कई लोग इसके उल्कापिंड होने का दावा कर रहे हैं तो कई लोगों का कहना है कि यह रोजाना हो रही सामान्य घटने वाली खगोलीय घटना भी हो सकती है। अलग-अलग क्षेत्र लोगों के अलग-अलग दावे हैं, लेकिन अभी तक जिले के किसी भी इलाके में इस तरह की चीज गिरने की पुष्टि हुई है और ना ही प्रशासन की तरफ से कोई आधिकारिक बयान आया है। 

बाड़मेर के कई इलाकों में आसमान से 'उल्कापिंड' गिरने के दावेष तेज़ धमाके की आवाज़ से लोगों में दशहतकई लोग इसके उल्कापिंड होने का दावा कर रहे हैं तो कई लोगों का कहना है कि यह रोजाना हो रही सामान्य घटने वाली खगोलीय घटना भी हो सकती है। अलग-अलग क्षेत्र लोगों के अलग-अलग दावे हैं, लेकिन अभी तक ऐसी किसी चीज के गिरने की पुष्टि हुई है और ना ही प्रशासन की तरफ से कोई आधिकारिक बयान आया है। बाड़मेर जिले के अलग-अलग इलाकों से इसे देखने के दावे किए जा रहे हैं। बाड़मेर, धोरीमन्ना, बालोतरा में ऐसा देखा गया है। लेकिन अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। कई लोग इस उल्का पिंड बता रहे हैं और कई लोग सामान्य खगोलीय घटना बता रहे हैं।

यह घटना रविवार रात को करीब 10:00 बजे के आसपास की बताई जा रही है। इसको लेकर कई लोगों का दावा है कि उनकी आंखों के सामने एक मशालनुमा रौशनी आसमान से गिरती हुई नजर आई। इस दौरान तेज रोशनी हुई और नीचे आते ही तेज धमाके की आवाज भी आई। जिले के कई ग्रामीण इलाकों में इसके गिरने का दावा किया जा रहा था लेकिन कहीं से भी पुष्टि सामने नहीं आई है।यह घटना भारत-पाकिस्तान सीमा के आसपास के क्षेत्र में होने की जानकारी सामने आ रही है ऐसे में अंदेशा यह भी जताया जा रहा है कि यह सीमा पर पाकिस्तान के इलाके में गिरी हो और सीमावर्ती क्षेत्र में नजदीक रह रहे लोगों को आभास हुआ कि यह उनके आसपास के इलाके में गिरी हो।