ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानमेरी इज्जत नहीं रखी, मंच छोड़कर चले गए कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल; वीडियो वायरल

मेरी इज्जत नहीं रखी, मंच छोड़कर चले गए कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल; वीडियो वायरल

राजस्थान के मंत्री किरोड़ी लाल मीणा नाराज हो गए है। दरअसल, बस्सी में आयोजित जनसभा में भीड़ नहीं जुटने से नाराज हो गए। किरोड़ी ने भीड़ कम जुटने पर भाजपा मंडल पदाधिकारियों को फटकारा।

मेरी इज्जत नहीं रखी, मंच छोड़कर चले गए कैबिनेट मंत्री किरोड़ी लाल; वीडियो वायरल
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरMon, 15 Apr 2024 08:52 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के मंत्री किरोड़ी लाल मीणा नाराज हो गए है। दरअसल, बस्सी में आयोजित जनसभा में भीड़ नहीं जुटने से नाराज हो गए। किरोड़ी लाल भीड़ कम जुटने पर भाजपा मंडल पदाधिकारियों को फटकार लगाई। स्टेज से मंच छोड़कर चले गए। किरोड़ी ने कहा- विधानसभा चुनावों में ईमानदार व्यक्ति को हराकर, मेरी इज्जत नहीं रखी तो अब क्या रखोगे, मोदी जी को फोन कर बोल देता हूं की बस्सी के लोग तो बिल्कुल पागल हो गए हैं। किरोड़ी लाल दौसा से बीजेपी के प्रत्याशी कन्हैयालाल मीणा के समर्थन में जनसभा करने गए थे।

उल्लेखनीय है कि दौसा किरोड़ी लाल के प्रभाव वाला जिला माना जाता है। ऐसे में किरोड़ी लाल बीजेपी के जिताने के लिए कड़ी मेहनत भी कर रहे है। लेकिन जिस तरह से उनकी सभाओं में भीड़ कम जुट रही है। वह चिंता पैदा कर सकती है। बीजेपी की तरफ से दौसा से कन्हैयालाल मीणा को टिकट दिया गया है तो वहीं कांग्रेस ने मुरारी लाल मीणा को टिकट दिया है। वहीं दौसा सांसद जयकौर मीणा का टिकट कटवाने में भी किरोड़ी मीणा का हाथ माना जाता है वे यहां से अपने भाई को टिकट दिलवाना चाहते थे, लेकिन हाईकमान के इनकार के बाद किरोड़ी लाल के सुझाव पर ही कन्हैयालाल मीणा को टिकट दिया गया। ऐसे में दौसा लोकसभा सीट पर जीत की जिम्मेदारी किरोड़ी लाल मीणा पर भी आती है।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल

मंच छोड़ने का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। हालांकि, लाइव हिन्दुस्तान वायरल वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। उल्लेखनीय है कि दौसा किरोड़ी लाल के प्रभाव वाला जिला माना जाता है। ऐसे में किरोड़ी लाल बीजेपी के जिताने के लिए कड़ी मेहनत भी कर रहे है। लेकिन जिस तरह से उनकी सभाओं में भीड़ कम जुट रही है। वह चिंता पैदा कर सकती है। बीजेपी की तरफ से दौसा से कन्हैयालाल मीणा को टिकट दिया गया है तो वहीं कांग्रेस ने मुरारी लाल मीणा को टिकट दिया है। वहीं दौसा सांसद जयकौर मीणा का टिकट कटवाने में भी किरोड़ी मीणा का हाथ माना जाता है वे यहां से अपने भाई को टिकट दिलवाना चाहते थे, लेकिन हाईकमान के इनकार के बाद किरोड़ी लाल के सुझाव पर ही कन्हैयालाल मीणा को टिकट दिया गया। ऐसे में दौसा लोकसभा सीट पर जीत की जिम्मेदारी किरोड़ी लाल मीणा पर भी आती है।

पहले मंत्री पद छोड़ने का दिया था बयान 

इससे पहले पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने महुआ में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए किरोड़ी लाल मीणा का बिना नाम लिए तंज कसा था। उन्होंने कहा था कि दौसा से बीजेपी हारती है तो किसी का मंत्री पद नहीं जाएगा। किरोड़ी लाल मीणा के बयान को सचिन पायलट के उसी तंज से जोड़कर देखा जा रहा है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें