ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानअशोक गहलोत ने हनुमान बेनीवाल की तारीफों के बांधे पुल, ज्योति मिर्धा के लिए कहीं ये बड़ी बात

अशोक गहलोत ने हनुमान बेनीवाल की तारीफों के बांधे पुल, ज्योति मिर्धा के लिए कहीं ये बड़ी बात

राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल की जमकर तारीफ की है। गहलोत ने कहां- हनुमान बेनीवाल दबंग नेता है, जो किसान और युवाओं के लिए हमेशा संघर्ष करता है।

अशोक गहलोत ने हनुमान बेनीवाल की तारीफों के बांधे पुल, ज्योति मिर्धा के लिए कहीं ये बड़ी बात
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 18 Apr 2024 04:04 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने आरएलपी सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल की जमकर तारीफ की है। गहलोत ने नागौर लोकसभा सीट पर इंडिया गठबंधन से आरएलपी के उम्मीदवार हनुमान बेनीवाल के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया। गहलोत ने कहा कि इंडिया गठबंधन का प्रत्याशी हनुमान बेनीवाल दबंग नेता है, जो किसान और युवाओं के लिए हमेशा संघर्ष करता है। प्रदेश के 25 सांसदों में केवल बेनीवाल ही संसद में प्रदेश और देश के मुद्दे उठाते थे। ईआरसीपी का मुद्दा केवल बेनीवाल ने ही उठाया। पीएम मोदी पहले हमारे ऊपर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हैं, फिर हमारे नेताओं को भाजपा में शामिल कर लेते हैं, भाजपा गजब की वॉशिंग मशीन है।बता दें हनुमान बेनीवाल से गहलोत का छत्तीस का आंकड़ा रहा है। इसके बावजूद भी गहलोत बेनीवाल की तारीफ कर रहे हैं। इससे पहले कांग्रेस के नेता हरीश चौधरी बेनीवाल की पार्टी को गहलोत की प्रायोजित पार्टी कर चुके है। हालांकि, सियासी जानकारों का कहना है कि कांग्रेस ने गठबंधन किया है। इसलिए गहलोत को तारीफ करनी पड़ रही है। उल्लेखनीय है कि है कि गहलोत सरकार के समय बेनीवाल ने मोर्चा खोल दिया था। बेनीवाल गहलोत को लगातार निशाने पर लेते रहे, लेकिन सत्ता परिवर्तन के बाद हालात बदल गए है। 

गहलोत ने कहा कि भाजपा के लोग घमंड में चूर है और देश में ऐसे हालात पैदा कर दिए कि लोकतंत्र खतरे में है। अब हमारे सामने लोकतंत्र को बचाए रखने का सवाल है। उन्होंने कहा कि भाजपा वाले 400 पार का नारा लगा रहे हैं, जब भाजपा का इतना ही माहौल है तो फिर कांग्रेस के लोगों को क्यों तोड़ रहे हैं।क्यों भाजपा का कांग्रेसीकरण कर रहे हो। गहलोत ने कहा कि केन्द्र सरकार ईडी और सीबीआई के दम पर लोगों को डरा रही है। कांग्रेस के खाते बंद कर दिए, दो-दो मुख्यमंत्री जेल में है, देश में ऐसे हालात पैदा कर दिए कि संयुक्त राष्ट्र को बोलना पड़ा है। इन्हीं हालातों को देखते हुए बेनीवाल और हमने यह गठबंधन किया है।

सत्यानाशी का फूल

गहलोत ने बीजेपी की प्रत्याशी ज्योति मिर्धा पर भी जमकर निशाना साधा। गहलोत ने कहा कि पता नहीं ज्योति मिर्धा बीजेपी में क्यूं गईं। पूरा परिवार ही भाजपा में चला गया। नाथूराम मिर्धा बीजेपी को सत्यानाशी का फूल कहते थे। उस पार्टी में जाने का तुक क्या था। कौन सा दबाव था। इतना मान सम्मान था कांग्रेस में, अब सबक सिखाओ उनको। जब कांग्रेस के अच्छे दिन आएंगे तो जो लोग गये हैं वो वापस आने के लिए लाइन लगाएंगे। गहलोत ने बीजेपी प्रत्याशी ज्योति मिर्धा पर निशाना साधते हुए कहा कि नाथू बाबा की पौती उनकी आत्मा को कष्ट पहुंचा रही है। नाथू बाबा की आत्मा को कष्ट है कि उनकी पौती ने क्या कबाड़ा कर दिया।

दस साल में नहीं दे पाए एमएसपी कानून

गहलोत ने कहा कि भाजपा ने सत्ता में आने से पहले कहा था कि हम एमएसपी कानून लाएंगे, लेकिन दस साल में नहीं ला पाए। मोदी जी बेटी पढ़ाओ-देश बढ़ाओ की बात करते हैं, लेकिन जब पहलवान बहन बेटियां धरने पर बैठी थी, तो मोदी जी ने देखा तक नहीं। गहलोत ने कहा कि हमारी जनकल्याणकारी योजनाओं को इन्होंने आते ही बंद कर दिया। राशन किट बंद कर दिए, यदि मेरे फोटो से ऐतराज था तो मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा की लगा देते, लेकिन योजना तो चालू रखते।
चुनावी सभा को पूर्व मंत्री गोविंदराम मेघवाल, पूर्व उप मुख्य सचेतक महेन्द्र चौधरी, मकराना विधायक जाकिर हुसैन गैसावत, नागौर विधायक हरेन्द्र मिर्धा, पूर्व विधायक मंजू मेघवाल, चेतन चौधरी, नारायण बेनीवाल, सोना बावरी, पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़, पूर्व प्रधान रिद्धकरण लोमरोड़ सहित कांग्रेस व आरएलपी के नेताओं ने संबोधित किया।