ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानIAS Tina Dabi का जबरा फैन निकला किशन राज भील, किताब के कवर पेज पर IAS का फोटो

IAS Tina Dabi का जबरा फैन निकला किशन राज भील, किताब के कवर पेज पर IAS का फोटो

भारत आए पाक विस्थापितों का पुनर्वास पर एक दसवीं युवक किशन राज भील ने एक किताब लिखी है। बड़ी बात यह है कि इस बुक के कवर पेज पर युवक ने आईएएस टीना डाबी की फोटो रखी है। टीना डाबी क फैन है।

IAS Tina Dabi का जबरा फैन निकला किशन राज भील, किताब के कवर पेज पर IAS का फोटो
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 13 Jun 2024 01:29 PM
ऐप पर पढ़ें

भारत आए पाक विस्थापितों का पुनर्वास पर एक दसवीं युवक किशन राज भील ने एक किताब लिखी है। बड़ी बात यह है कि इस बुक के कवर पेज पर युवक ने आईएएस टीना डाबी की फोटो रखी है। बताया जा रहा है कि युवक टीना डाबी का बड़ा फैन है। यह युवक 7 साल की उम्र में अपने परिवार के साथ पाकिस्तान से जैसलमेर आया था। जिसने पाकिस्तान के अत्याचारों को भी देखा और भारत में पाक विस्थापितों को मिलने वाली सुविधाओं और आने वाली कठिनाइयों को भोगा है। किशन राज भील ने इस बात का आभार जताया है कि टीना डाबी ने पाक विस्थापितों की बात सुनकर सरकार से उनके लिए जमीन आंवटित करवाई। उनके लोगों की मदद की। वहीं मजदूरी कर अपने परिवार का गुजारा करने वाले इस लेखक कि यह इच्छा है कि ये पुस्तक टीना डाबी तक एक बार जरूर पहुंचे। 

उल्लेखनीय है कि मई 2023 में जैसलमेर शहर से महज 4 किलोमीटर दूर अमरसागर में करीब 40 पाक विस्थापित हिन्दुओं के घरों को अतिक्रमण बताते हुए जिला प्रशासन ने कार्रवाई की थी। अतिक्रमण कार्रवाई के जरिए वहां कई लोग बेघर हो गए। उस समय जैसलमेर की कमान जिला कलेक्टर 2015 बैच की आईएएस टॉपर टीना डाबी के हाथ में थी। इस कार्यवाही से पाक विस्थापितों के करीब 40 परिवार बेघर हो गए थे। इसके बाद जैसलमेर जिला कलेक्टर कार्यालय के आगे पाक विस्थापितों का धरना प्रदर्शन भी चला।


जैसलमेर की भील बस्ती में किशन राज भील नामक युवक रहता है। जिन्हें भारतीय नागरिकता मिल चुकी है। जो दसवीं तक पढ़ा है और पारिवारिक जिम्मेदारियों के चलते पत्थर का काम करता है। इस पुर्नवासी भील नामक एक पुस्तक लिखी है। 82 पृष्ठ और 6 अध्याय की इस पुस्तक में अखबारों की कटिंग के साथ ही तथ्यात्मक आंकड़ों , पाकिस्तान में हिन्दुओं पर होने वाले अत्याचारों के साथ ही भारत में मिलने वाली सुविधाओं और यहां उनके लिए आने वाली कठिनाइयों का भी इस किताब में जिक्र किया है। वहीं इस किताब के मुख्य पृष्ठ पर उसने 2015 की आईएएस टॉपर टीना डाबी का फोटो दिया है।


दरअसल इस किताब में उसने मई 2023 में तपती गर्मी में जैसलमेर की उस समय की जिला कलेक्टर रही टीना डाबी के आदेश पर अपना विचार प्रजेंट किया है। यहां अमरसागर में रह रहे 40 पाक विस्थापितों के घरों पर चले बुलडोजर से उन्हें बेघर की घटना का जिक्र है। पाक विस्थापितों का जिक्र किया है। वहीं धरना प्रदर्शन के बाद पाक विस्थापितों के लिए मूलसागर में 40 बीघा जमीन आवंटित कर उन्हें वहां बसाने का भी जिक्र किया है। इस किताब में उन्होंने जिला कलेक्टर टीना डाबी का आभार भी जताया हैं।