ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानअशोक गहलोत के चरणों में जाकर बैठ गए थे, ज्योति मिर्धा का हनुमान बेनीवाल पर अटैक 

अशोक गहलोत के चरणों में जाकर बैठ गए थे, ज्योति मिर्धा का हनुमान बेनीवाल पर अटैक 

राजस्थान के नागौर से भाजपा प्रत्याशी रहीं ज्योति मिर्धा ने सांसद हनुमान बेनीवाल को चुनौती देते हुए बोलीं कि वे अब तक घालमेल और बैसाखियों की राजनीति करते आए हैं। अकेले चुनाव लड़कर दिखाए।

अशोक गहलोत के चरणों में जाकर बैठ गए थे, ज्योति मिर्धा का हनुमान बेनीवाल पर अटैक 
jyoti mirdha
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSat, 15 Jun 2024 07:29 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के नागौर से भाजपा प्रत्याशी रहीं ज्योति मिर्धा शनिवार को आरएलपी सुप्रीमो और नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल को चुनौती देते हुए बोलीं कि वे अब तक घालमेल और बैसाखियों की राजनीति करते आए हैं। दम है तो अकेले चुनाव लड़के दिखाएं।  ज्योति मिर्धा ने ​शनिवार को मीडिया से बात करते हुए कहा ​कि लोकसभा चुनाव परिणामों की समीक्षा को लेकर बैठक होनी चाहिए। बैठक में चर्चा होती है तो खामियों का पता लगता है और भविष्य में उन गलतियों की पुनरावृत्ति न हो, उस पर निर्णय लिया जाता है। मिर्धा ने कहा कि आने वाले समय में उपचुनाव होंगे। इन उपचुनावों में लोकसभा चुनाव के दौरान हुई गलतियों को सुधारने की जरूरत है, ताकि आगे उसका लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि भाजपा में अच्छी बात है कि यहां पर अच्छे-बुरे सभी परिणामों पर चर्चा होती है। मंथन होता है और उनमें सुधार करने का प्रयास किया जाता है।

बैसाखियों की राजनीति बंद करें बेनीवाल

 नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल को लेकर ज्योति मिर्धा ने कहा कि बेनीवाल पुराने समय से घालमेल की राजनीति करते हैं। गुढाने चलने की उनकी पुरानी आदत है। पहले बीजेपी के साथ में चुनाव लड़े और फिर अशोक गहलोत के चरणों में जाकर बैठ गए थे। अब कोशिश कर रहे हैं कि किसी तरह भाजपा के चरणों में आ जाएं। बेनीवाल को लग रहा है कि उनकी दुकान का शटर डाउन हो रहा है। इसलिए उनमें घबराहट मची हुई है, लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि भाजपा की ओर से उनको कोई समर्थन नहीं मिलेगा। ज्योति ने कहा कि आगे क्या होगा, उसको लेकर तो मैं कुछ कह नहीं कह सकती, लेकिन हनुमान बेनीवाल हमेशा चैलेंज करते हैं कि मैं अकेला चुनाव लड़ता हूं। मैंने पार्टी बनाई है। अब इस बार मैं भी कहती हूं कि बेनीवाल अकेले आकर चुनाव लड़ें। हमेशा घालमेल की राजनीति करते हैं. बैसाखियों के साथ चलते हैं। दम है तो अकेले चुनाव लड़कर दिखाएं।

खींवसर से उपचुनाव लड़ने के सवाल पर ज्योति ने कहा कि उनसे इस विषय पर पार्टी से कोई चर्चा नहीं हुई है। पार्टी जो भी निर्णय लेगी, उसी के अनुसार काम करना है, लेकिन यह तय मान करके चलिए कि इस बार के उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी निश्चित रूप से जीत दर्ज करेगी। पीएम नरेन्द्र मोदी के 400 पार के नारे को लेकर मिर्धा ने कहा कि ये नारा कोई अहंकार नहीं था। पीएम मोदी तो देश को एक नई दिशा देना चाहते थे, इसलिए देश की जनता से समर्थन मांग रहे थे। मुझे खुशी है कि नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बने हैं और पूरा विश्वास है कि भारत उनके नेतृत्व में नई ऊंचाइयों को छुएगा। आरएसएस और इंद्रेश कुमार के बयान को लेकर मिर्धा ने कहा कि इस बयान पर उनका खंडन आया है, उसका भी संज्ञान लेना चाहिए।