ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानJEN भर्ती 2020: पेपर लीक गिरोह के 50 हजार का इनामी नेपाल बाॅर्डर से गिरफ्तार

JEN भर्ती 2020: पेपर लीक गिरोह के 50 हजार का इनामी नेपाल बाॅर्डर से गिरफ्तार

राजस्थान में कनिष्ठ अभियंता भर्ती 2020 के पेपर लीक गिरोह के 50 हजार का इनामी मुख्य सरगना हर्षवर्धन मीणा को नेपाल बाॅर्डर से गिरफ्तार किया है। एटीएस और एसओजी ने चारों सरकारी कर्मचारियों को पकड़ा है।

JEN भर्ती 2020: पेपर लीक गिरोह के 50 हजार का इनामी नेपाल बाॅर्डर से गिरफ्तार
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरTue, 20 Feb 2024 06:45 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में कनिष्ठ अभियंता भर्ती 2020 के पेपर लीक गिरोह के 50 हजार का इनामी मुख्य सरगना हर्षवर्धन मीणा को नेपाल बाॅर्डर से गिरफ्तार किया है। एटीएस और एसओजी ने यह कार्रवाई की है। एसओजी और एटीएस की टीम ने आरोपी हर्षवर्धन मीणा, राजेंद्र कुमार यादव उर्फ राजू, राजेंद्र कुमार और शिवरतन मोट को गिरफ्तार किया है। आरोपी हर्षवर्धन मीणा दौसा जिले की महुआ तहसील के सालिमपुर गांव का निवासी है। वह पटवारी है। राजेंद्र कु्मार यादव थाना कालाडेरा जयपुर। राजेंद्र कु्मार यादव पुत्र द्वारका प्रसाद  झोटवाड़ा जयपुर निवासी है। वह तृतीय श्रेणी अध्यापक है। शिवरतन मोठ भोजेवाला श्रीगंगानगर निवासी है। वह लाइब्रेरियन है। कनिष्ठ अभियंता भर्ती पेपर लीक मामले में एसओजी अब तक 24 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है।  इनमें 5 परीक्षार्थी है जबकि 19 आरोपी पेपर लीक गिरोह से जुड़े हुए है। पुलिस ने हर्षवर्धन की गिरफ्तारी के लिए 50 हजार रुपये का इनाम रखा था। बता दें  9 दिसंबर 2020 को कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा का आयोजन किया गया था। 

अब तक 24 आरोपी हो चुके गिरफ्तार
एडीजी वीके सिंह ने जयपुर में प्रेस वार्ता कर बताया कि कनिष्ठ अभियंता भर्ती 2020 की लिखित परीक्षा 6 दिसंबर 2020 को हुई थी। एक परीक्षार्थी की ओर से इस परीक्षा का पेपर लीक होने की जानकारी देने पर 9 दिसंबर 2020 को प्रकरण दर्ज जांच शुरू की गई थी। जांच के दौरान पेपर लीक होना पाया गया था जिससे राज्य कर्मचारी चयन बोर्ड की ओर से इस भर्ती परीक्षा को रद्द कर नए सिरे से परीक्षा का आयोजन किया गया था। पेपर लीक मामले में अब तक 24 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिसमें 5 परीक्षार्थी हैं और 19 पेपर लीक करने वाले अन्य लोग शामिल हैं।

जयपुर की सरकारी स्कूल से ही पेपर लीक हुआ
पेपर लीक होना तो पूर्व में साबित हो चुका था लेकिन यह पता नहीं चल सका था कि पेपर लीक हुआ कहां से है। अब एसओजी ने इस पूरे प्रकरण से पर्दा उठा दिया है। एडीजी वीके सिंह ने बताया कि कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा 2020 का पेपर जयपुर के झोटवाड़ा में स्थित शहीद दिग्विजय सिंह सुमेल राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खातीपुरा रोड़ झोटवाड़ा से लीक किया गया था। इसी स्कूल में कार्यरत तृतीय श्रेणी शिक्षक राजेंद्र यादव और अन्य आरोपियों ने स्कूल के स्ट्रांग रूम में रखे सील्ड पेपर को चीरा लगाकर खोला गया था। एडीजी के मुताबिक पेपर लीक मामले में और भी आरोपियों के लिप्त होने की जानकारी मिली है उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें