ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानjlf 2024 : जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल आज से शुरू, दीयाकुमारी ने किया उद्घाटन

jlf 2024 : जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल आज से शुरू, दीयाकुमारी ने किया उद्घाटन

राजस्थान की राजधानी में एक बार फिर गुरुवार से साहित्य का महाकुंभ सजेगा, जिसका उद्घाटन उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी ने किया। 5 दिन तक चलने वाले जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में 550 वक्ता भाग लेंगे।

jlf 2024 : जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल आज से शुरू, दीयाकुमारी ने किया उद्घाटन
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 01 Feb 2024 11:43 AM
ऐप पर पढ़ें

Jaipur Literature Festival: जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2024 का गुरुवार को आगाज हो गया। आज जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल का उद्घाटन राजस्थान की उपमुख्यमंत्री दीयाकुमारी ने किया। उन्होंने कहा कि आज जेएलएफ ने देश ही नहीं विदेश में भी अपनी पहचान बना ली है। राजस्थान और खासकर जयपुर के टूरिज्म को निश्चित रूप से इस फेस्टिवल से बूम मिलेगा। इस दौरान आज पेश होने वाले बजट पर दीयाकुमारी ने कहा कि भाजपा सरकार हमेशा से ही आम जनता के हितों का ख्याल रखती है। ऐसे में इस बजट से भी देश के हर वर्ग को राहत महसूस होगी। इस मौके पर जेएलएफ के फाउंडर नमिता गोखले, विलियम डेलरिम्पल और संजोय के रॉय ने उद्घाटन सत्र को सम्बोधित किया। तीनों ने 17 साल के इस सफर के बारे में जानकारी दी।

5 दिन तक चलने वाले जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में 550 वक्ता भाग लेंगे। फेस्टिवल के पहले दिन कुल 40 सत्र होंगे. ये सत्र क्लार्क्स आमेर होटल में सजाए गए फ्रंट लॉन, मुगल टेंट, चारबाग दरबार हॉल और बैठक में होंगे। पहले दिन की शुरुआत उद्घाटन समारोह से होगी, जिसमें प्रदेश की उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगी। इस मौके पर पर पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद रहेंगे। द मॉर्निंग म्यूज़िक में पंडित कुमार गंधर्व की 100वीं जयंती मनाते हुए कलापिनी कोमकली की प्रस्तुति होगी।पहले दिन गुलज़ार, अमीश, रघुराम राजन, अजय जड़ेजा, चित्रा बनर्जी दिवाकरुनी, पवन के वर्मा जैसे वक्ता के साथ साहित्यि के यज्ञ में अपने ज्ञान और अनुभव की आहुति देंगे। खास बात यह है कि इस बार छात्रों के लिए लिटरेचर फेस्टिवल का टिकट महज 100 रुपए का होगा।जबकि जनरल एंट्री टिकट का दाम 200 रुपए रखा गया है। 

प्रख्यात साहित्कारों की मिलेगी किताबें

 फेस्टिवल में शामिल होने के लिए पहुंचने वाले लोगों के लिए पार्किंग की व्यवस्था जवाहर सर्किल गार्डन, जवाहर सर्किल के पास बनी नर्सरी और सरस पार्लर की जमीन पर अस्थायी पार्किंग बनाई गई है. वहीं, जेएलएफ में इस बार बच्चों के लिए नंद घर भी होगा, जहां डांस, लिटरेचर, स्टैंडअप कॉमेडी, राइटिंग सहित दूसरे विषयों पर एक्सपर्ट बच्चों से रूबरू होंगे. बुक स्टोर भी सजाया जा रहा है, जहां देश-दुनिया के प्रख्यात साहित्कारों की किताबें मिलेगी. मेहमान फूड कोर्ट में बैठकर मल्टी कुजीन डिशेज का लुत्फ ले सकेंगे. वहीं, जयपुर म्यूजिक का मंच भी सजेगा, जिसमें पहले दिन गायक अलिफ़ और द तापी प्रोजेक्ट फोक, जैज़ और परिवेशीय बनावट का समावेश देखने को मिलेगा. वहीं, दूसरे दिन दिल्ली के प्रभ दीप द रीविजिट प्रोजेक्ट का अनूठा जैज़ फ्यूजन पेश करेंगे, जबकि समापन समारोह में गायक हरप्रीत और सलमान इलाही के साथ व्हेन चाय मेट टोस्ट बैंड शामिल होगे।

करीब 550 लेखक, वक्ता और कलाकार शामिल होंगे

साहित्यिक समारोह में करीब 550 लेखक, वक्ता और कलाकार शामिल होंगे. 16 भारतीय और 8 अंतर्राष्ट्रीय भाषाओं में विचारों का आदान-प्रदान किया जाएगा। फेस्टिवल के समानांतर पूरे 5 दिन जयपुर बुकमार्क भी होगा, जिसमें प्रकाशन जगत के दिग्गजों के साथ प्रकाशन से जुड़े सभी विषयों पर गहराई से चर्चा होगी, इसमें देश-दुनिया के संपादक, लेखक, प्रकाशक, लिटरेरी एजेंट्स, अनुवादक और बुक सेलर भाग लेंगे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें