ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News राजस्थानजैसलमेर में सरहद पर शुरू हुआ BSF का ऑपरेशन अलर्ट, दुश्मन पर पैनी नजर

जैसलमेर में सरहद पर शुरू हुआ BSF का ऑपरेशन अलर्ट, दुश्मन पर पैनी नजर

राजस्थान में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल का ऑपरेशन अलर्ट आज शुक्रवार से शुरू हो गया है, जो आगामी 27 जनवरी तक जारी रहेगा। गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा के मद्देनजर ऑपरेशन शुरू किया।

जैसलमेर में सरहद पर शुरू हुआ BSF का ऑपरेशन अलर्ट, दुश्मन पर पैनी नजर
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 19 Jan 2024 04:08 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में भारत-पाक अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल का ऑपरेशन अलर्ट आज शुक्रवार से शुरू हो गया है, जो आगामी 27 जनवरी तक जारी रहेगा। इन दिनों तेज सर्दी और धूंध में होने वाली अवैध गतिविधियों के खिलाफ और गणतंत्र दिवस पर सुरक्षा के मद्देनजर बीएसएफ ने सरहद पर यह ऑपरेशन शुरू किया है। बीएसएफ के डीआईजी योगेंद्रसिंह ने बताया कि देश की प्रथम रक्षा पंक्ति यानी सीमा सुरक्षा बल 24 घण्टे और 365 दिन सरहद पर मुस्तैदी से ड्यूटी कर देश की सीमाओं की रक्षा करती है, लेकिन इन दिनों सर्दी के मौसम के चलते घने कोहरे और धूंध का फायदा उठाकर होने वाली किसी भी तरह की घुसपैठ व अन्य गतिविधियों को रोकने के लिए बीएसएफ इस ऑपरेशन के दौरान पूरी तरह से अलर्ट मोड पर रहेगी। 

ऑपरेशन अलर्ट 27 जनवरी तक चलेगा

डीआईजी ने बताया कि बीएसएफ का 19 जनवरी से शुरू हुआ यह ऑपरेशन अलर्ट 27 जनवरी तक चलेगा. इस दौरान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर निगरानी तंत्र को मजबूत किया गया है. साथ ही चौकसी भी बढ़ाई गई है. बीएसएफ के सभी जवान व अधिकरी सरहद पर मुस्तैदी के साथ अपना फर्ज निभा रहे हैं। इस ऑपरेशन के तहत पाकिस्तान की बॉर्डर पर सीमा सुरक्षा बल ने अपनी नफरी में इजाफा कर दिया है और सभी रैंक के अधिकारियों को सीमा क्षेत्र में जाकर निगरानी व्यवस्था की मॉनिटरिंग करने के लिए निर्देशित किया है। इसके बाद अधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में अवस्थित सीमा चौकियों का दौरा शुरू कर दिया है। इसके अलावा गाड़ियों से पेट्रोलिंग भी की जाएगी।

दुर्लभ इलाकों में पैदल व ऊंटों के माध्यम से बीएसएफ के जवान पेट्रोलिंग करेंगे। बीएसएफ के डीआईजी ने बताया कि सरहद पर तेज सर्दी के चलते जवानों के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। ताकि तेज सर्दी व धूंध में जवानों को दिन व रात में ड्यूटी के दौरान किसी प्रकार की समस्या ना हो। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें