DA Image
19 जनवरी, 2021|8:55|IST

अगली स्टोरी

राजस्थान छोड़कर जम्मू-कश्मीर जाना चाहते हैं IAS टीना डाबी के पति अतहर, लगाई तबादले की अर्जी

                                                         -                                                          ias

यूपीएससी परीक्षा टॉप करने वाली 2015 बैच की आईएएस अधिकारी टीना डाबी से तलाक लेने के लिए जयपुर के फैमिली कोर्ट अर्जी लगाने वाले आईएएस अधिकारी अतहर खान ने जम्मू-कश्मीर में डेपुटेशन पर जाने के लिए आवेदन किया है। उनका आवेदन अभी केंद्रीय गृह मंत्रालय में लंबित पड़ा है। अतहर खान भी 2015 बैच के आईएएस है।

आईएएस दंपत्ति के बीच आई दरार को लेकर सोशल मीडिया से लेकर ब्यूरोक्रेसी में कई तरह की कहानियां चल रही हैं। सूत्रों का कहना है कि गृह राज्य जाने के लिए अतहर खान के आवेदन करने के बाद ही दोनों के बीच दरारें और बढ़ गई। दो दिन से टीना डाबी और अतहर खान सुर्खियों में हैं। दो साल पहले जब दोनों ने शादी की थी तब सुर्खियों में थे और अब जब तलाक ले रहे हैं तो भी सुर्खियों में छाए हुए हैं। दिलचस्प यह है कि कई मुस्लिम देशों में दोनों गूगल में सर्च किए जा रहे हैं। शुक्रवार को तो राजस्थान कैडर के ये आईएएस दंपत्ति सोशल मीडिया पर ट्रेंड होते रहे।

आवास के लिए अलग-अलग आवेदन किए

हाउसिंग बोर्ड की ओर से आईएएस अफसरों के लिए एक सोसाइटी बनाई गई हैं, जिसमें प्लाट लेने के लिए दोनों ही अफसरों ने अलग-अलग आवेदन किया था। तभी से ही यह अंदाजा लगाया जा रहा था कि दोनों के बीच सब कुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा है।

दो दिन पहले ही टीना का हुआ था तबादला, जिस पर लगी रोक

दो दिन पहले ही टीना डाबी का तबादला श्रीगंगानगर से सचिवालय में वित्त विभाग में हुआ था, जिस पर राज्य निर्वाचन आयोग ने रोक लगा दी है। यह भी चर्चा है कि दोनों के बीच हुए विवाद की शिकायत सरकार तक भी पहले ही पहुंच चुकी थी, जिसके बाद ही दोनों को जुलाई में भीलवाड़ा से तबादला हुआ था।

अलग-अलग जिलों में किया गया था डेपुटेशन
सेंट्रल डेपुटेशन पर जाने के लिए 9 साल, किसी दूसरे केंद्र शासित प्रदेश में जाने के लिए 7 साल, जबकि जम्मू-कश्मीर में जाने के लिए केवल 5 साल का ही अनुभव चाहिए। अतहर का 5 साल का अनुभव दिसंबर में पूरा हो जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:IAS Tina Dabi husband Athar wants to leave Rajasthan and go to Jammu and Kashmir application for transfer