ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानराजस्थान में आसमान से बरस रही आग, छह और लोगों की मौत, अभी 4 दिन राहत के आसार नहीं

राजस्थान में आसमान से बरस रही आग, छह और लोगों की मौत, अभी 4 दिन राहत के आसार नहीं

राजस्थान में भीषण गर्मी का दौर जारी है। इस बीच कथित तौर पर लू लगने से शुक्रवार को छह और लोगों की मौत होने की सूचना है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी चार दिनों तक गर्मी कम होने के आसार नहीं है।

राजस्थान में आसमान से बरस रही आग, छह और लोगों की मौत, अभी 4 दिन राहत के आसार नहीं
Subodh Mishraभाषा,जयपुरFri, 24 May 2024 11:01 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान में भीषण गर्मी का दौर जारी है। इस बीच कथित तौर पर लू लगने से शुक्रवार को छह और लोगों की मौत होने की सूचना है। राजस्थान के आपदा प्रबंधन एवं नागरिक सुरक्षा विभाग के अनुसार शुक्रवार को राज्य में हीट वेव से बालोतरा में तीन, भीलवाड़ा में एक, बीकानेर में एक तथा जोधपुर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। हालांकि अभी इन लोगों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिली है। 

राजस्थान के कई हिस्से शुक्रवार को भी भीषण गर्मी और लू की चपेट में रहे। जयपुर मौसम केन्द्र के अनुसार शुक्रवार को फलोदी 49 डिग्री सेल्सियस के साथ राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा। जैसलमेर में अधिकतम तापमान 48.3 डिग्री सेल्सियस, बाड़मेर में 48.2 डिग्री, जोधपुर में 47.6 डिग्री, कोटा में 46.7 डिग्री, गंगानगर में 46.6 डिग्री, बीकानेर में 45.8 डिग्री, चूरू में 44.8 डिग्री और राजधानी जयपुर में 42.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राज्य के अन्य स्थानों पर अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया।

मौसम विभाग की आगामी समय में भी अत्यधिक गर्मी एवं लू की चेतावनी को देखते हुए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव शुभ्रा सिंह ने शुक्रवार को स्वास्थ्य भवन में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से हीटवेव प्रबंधन को लेकर समीक्षा बैठक की। उन्होंने सभी चिकित्सा संस्थानों को हीटवेव से बचाव एवं उपचार की पुख्ता व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अस्पतालों में कूलर, पंखे, एसी, वाटर कूलर आदि आवश्यक रूप से क्रियाशील रखने और जहां भी हीटवेव को लेकर आवश्यक व्यवस्थाओं में कमी है वहां 3 दिन के भीतर सभी व्यवस्थाएं सुचारू करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि लापरवाही के लिए जिम्मेदार अधिकारी और कर्मचारी के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाएगा।

सिंह ने समीक्षा बैठक में कहा कि मौसमी बीमारियों एवं हीटवेव प्रबंधन को लेकर चिकित्सा संस्थानों में किसी तरह की कमी नहीं रहे। किसी भी स्तर पर लापरवाही के कारण मरीजों को होने वाली असुविधा बर्दाश्त नहीं की जा सकती। राज्य में भीषण गर्मी की स्थिति ने सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया है। जहां जोधपुर, बीकानेर, व कोटा संभाग के अनेक स्थानों पर हीटवेव का प्रकोप देखा गया।

जयपुर मौसम केन्द्र के अनुसार बृहस्पतिवार रात का तापमान कुछ स्थानों पर सामान्य से दो से सात डिग्री ऊपर दर्ज किए गए हैं। सर्वाधिक न्यूनतम तापमान फलौदी में 36.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से 8.8 अधिक है। मौसम विभाग ने आगामी चार दिनों में राज्य के अनेक स्थानों पर हीट वेव से भीषण हीटवेव और कहीं-कहीं रात में भी भीषण गर्मी की संभावना जताई है। विभाग ने आगामी 72 घंटों में राज्य के दक्षिणी व पश्चिमी भागों में अधिकतम व न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने की संभावना जताई है।