ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ राजस्थानराजस्थान में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव पारित: मंत्रिपरिषद ने की वापस लेने की मांग; जानें वजह

राजस्थान में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव पारित: मंत्रिपरिषद ने की वापस लेने की मांग; जानें वजह

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रस्ताव पारित कर अग्निपथ स्कीम वापस लेने की मांग की है। सीएम गहलोत युवाओं से हिंसा नहीं करने की अपील की है।

राजस्थान में अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रस्ताव पारित: मंत्रिपरिषद ने की वापस लेने की मांग; जानें वजह
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरSat, 18 Jun 2022 07:20 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रस्ताव पारित कर अग्निपथ स्कीम वापस लेने की मांग की है। सीएमआर में हुई बैठक में सीएम गहलोत और मंत्रिपरिषद ने युवाओं से हिंसा नहीं करने की अपील भी की है। अग्निपथ स्कीम के विरोध में कांग्रेस कल राजधानी जयपुर में प्रदर्शन करेगी। मंत्रिपरिषद की बैठक के फैसलों की जानकारी देते हुए मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास ने कहा कि कल रविवार को अग्निपथ स्कीम के विरोध में राजधानी जयपुर में अमर जवान ज्योति पर कांग्रेस तिरंगा रैली निकालेगी।  खाचरियावास ने कहा कि स्कीम के माध्यम से युवाओं के सपनों को कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। देशहित में केंद्र सरकार को इस योजना का वापस लेनी चाहिए। सेना में प्रतिष्ठा और आत्मसम्मान बना रहे इसलिए इस योजना का विरोध किया जाएगा। खाचरियावास ने कहा कि सेना में कुशलता, स्थाई और अनुभव होना आवश्यक है।

राज्य मंत्रिपरिषद ने सर्वसम्मति से किया प्रस्ताव पारित 

मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद सीएम गहलोत ने ट्वीट कर लिखा- विशेषज्ञों का कहना कि देश की सेना में  नियमित भर्तियां हों। सैनिकों को बेहतर प्रशिक्षण मिलने के साथ ही उन्हें वे सभी परिलाभ मिलें, जिससे उनका और परिवार का भविष्य सुरक्षित हो सके। राज्य सरकार का यह मानना है कि केंद्र सरकार को ऐसी योजना लाने से पहले सभी हितधारकों के साथ व्यापक चर्चा करनी चाहिए थी। राज्य मंत्रिपरिषद सर्वसम्मति  से यह प्रस्ताव पारित करती है कि अग्निपथ योजना को वापस लिया जाए। 

खाचरियावास बोले-सीबीआई की एंट्री गलत 

सचिवालय में आयोजित प्रेस वार्ता में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने एक सवाल के जवाब में कहा कि राज्य सरकार की अनुमति के बिना राज्य में सीबीआई के एंट्री पर बैन है। इसके बावजूद सीबीआई ने राज्य में रेड डाली है। खाचरियानवास ने कहा कि बैठक में यह मुद्दा नहीं उठा है। लेकिन मेरी व्यक्तिगत राय है कि सीबीआई को राज्य में एंट्री से पहले गृह विभाग से अनुमति लेनी चाहिए थी। उन्होंने कहा कि इस संबंध में गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अभय कुमार और सीएम के प्रमुख शासन सचिव कुलदीप रांका से बात हुई है। यह संघीय ढ़ांचे के अनुरुप नहीं है।राहुल गांधी से ईडी से पूछताछ के मामले में खाचरियावास ने कहा कि राहुल गांधी को टारगेट किया जा रहा है। पीएम मोदी बदले की भावना से काम कर रहे हैं। केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रहे हैं।

ममता भूपेश ने पीएम पर साधा निशाना 

प्रेस वार्ता में महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश ने कहा कि मोदी सरकार ने अग्निपथ स्कीम से युवाओं के सपनों पर कुठाराघात किया है। इस योजना तुरंत वापस लेना चाहिए। यह योजना देशहित में बिलकुल भी नहीं है। सीएम गहलोत की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री के आवास पर हुई बैठक में मौटे तौर पर अग्निपथ स्कीम का मामला ही छाया रहा। कांग्रेस ने कल स्कीम के विरोध में प्रदर्शन करने की पूरी तैयारी कर ली है। पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं बड़ी संख्या में रैली में आने के निर्देश दिए है।

epaper