ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानप्री-बजट बैठक में वित्त मंत्री दीया कुमारी का नाम नहीं, गोविंद सिंह डोटासरा ने उठाया सवाल

प्री-बजट बैठक में वित्त मंत्री दीया कुमारी का नाम नहीं, गोविंद सिंह डोटासरा ने उठाया सवाल

राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में हारने के बाद बीजेपी की गुटबाजी खुलकर सामने आ गई है। प्री बजट की बैठक में वित्त मंत्री दीया कुमारी को नहीं बुलाया।

प्री-बजट बैठक में वित्त मंत्री दीया कुमारी का नाम नहीं, गोविंद सिंह डोटासरा ने उठाया सवाल
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरThu, 06 Jun 2024 04:06 PM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि लोकसभा चुनाव में हारने के बाद बीजेपी की गुटबाजी खुलकर सामने आ गई है।  बजट तैयार करने के लिए आज गुरुवार को दोपहर 3 बजे प्रस्तावित बैठक के मसौदे में वित्त मंत्री दीया कुमारी का भी नाम नहीं है। इसके साथ ही राजस्थान अकाउंट्स एसोसिएशन को भी बैठक का न्यौता नहीं दिया गया है। जबकि राजस्थान के 47 कर्मचारी संगठनों को बैठक में बुलाया गया है। हालांकि, यह बैठक आज कैंसिल हो गई है। सीएम भजनलाल शर्मा नवनिर्वाचित सांसदों के साथ दिल्ली जाएंगे। 

आपसी खींचतान की खबरें नई नहीं हैं

कांग्रेस नेताओं का कहना है कि करीब छह महीने पहले सत्ता में आई भाजपा सरकार में अलग-अलग धड़ों के बीच आपसी खींचतान की खबरें नई नहीं हैं। इस बीच ब्यूरोक्रेसी द्वारा सरकार चलाने के आरोप भी लगे हैं। इसका भी खामियाजा कहीं न कहीं भाजपा को लोकसभा चुनाव में भुगतना पड़ा और सभी 25 सीट जीतने का दावा करने वाली भाजपा प्रदेश की 11 सीटों पर चुनाव हार गई, लेकिन इन नतीजों के बाद सरकार की आपसी खींचतान खुलकर सामने आ गई है। जबकि अफसरों की मनमर्जी का आलम यह है कि प्री-बजट बैठक में वित्त मंत्री दीया कुमारी का ही नाम नहीं है। हालांकि, पहले इसके पीछे तर्क दिया गया कि यह बैठक टैक्सेशन की ओर से बुलाई गई है।वित्त मंत्री दीया कुमारी के अलावा बजट तैयार करने वाले महकमे राजस्थान अकाउंट्स एसोसिएशन को भी इस मीटिंग का न्योता नहीं दिया गया है। जबकि बैठक में रिटायर अफसर-कर्मचारियों तक को बुलाया गया है। ऐसा पहली बार हुआ है कि इतनी अहम बैठक में वित्त मंत्री और अकाउंट्स एसोसिएशन दोनों ही नहीं बुलाए गए हैं।

प्रॉटोकॉल के हिसाब से होना चाहिए वित्त मंत्री का नाम

प्री-बजट बैठक को लेकर वित्त विभाग की तरफ से जो नोटिस जारी किया गया है। उसमें वित्त मंत्री दीया कुमारी का नाम ही गायब है। हालांकि, वित्त मंत्री दीया कुमारी फिलहाल जयपुर में नहीं है, लेकिन प्रोटोकॉल के हिसाब से मीटिंग नोटिस में कम से कम उनका नाम शामिल होना चाहिए था। वित्त मंत्री के ऑफिस ने इस मामले पर कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया, लेकिन माना जा रहा है कि इस मामले की गूंज ऊपर तक जाएगी।
 

Advertisement