ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानशिक्षा मंत्री ने मदन दिलावर ने 12वीं टॉपर का किया सम्मान, बोले-आगे की पढ़ाई का खर्चा सरकार वहन करेगी

शिक्षा मंत्री ने मदन दिलावर ने 12वीं टॉपर का किया सम्मान, बोले-आगे की पढ़ाई का खर्चा सरकार वहन करेगी

राजस्थान के शिक्षामंत्री मदन दिलावर ने कहा है कि सरकार 12 वीं टाॅपर प्राची सोनी की आगे की पढ़ाई का खर्चा वहन करेगी। शिक्षामंत्री 100 फीसदी अंक लाने वाली प्राची सोनी के घर पहुंचे और सम्मानित किया।

शिक्षा मंत्री ने मदन दिलावर ने 12वीं टॉपर का किया सम्मान, बोले-आगे की पढ़ाई का खर्चा सरकार वहन करेगी
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरFri, 24 May 2024 06:46 AM
ऐप पर पढ़ें

राजस्थान के शिक्षामंत्री मदन दिलावर ने कहा है कि सरकार 12 वीं टाॅपर प्राची सोनी की आगे की पढ़ाई का खर्चा वहन करेगी। उच्च शिक्षा के लिए धन की कमी नहीं आने देगी। शिक्षामंत्री 12वीं साइंस के रिजल्ट में 100 फीसदी अंक लाने वाली प्राची सोनी का सम्मान करने के लिए शिक्षा मंत्री मदन दिलावर उसके घर पहुंचे। मंत्री ने कार्यक्रम में कहा कि बोर्ड परीक्षा में किसी विद्यार्थी के शत प्रतिशत अंक आना उन्होंने सपने में भी नहीं सोचा था। 

 कोटकासिम क्षेत्र के गांव इकरोटिया बीबीरानी में विज्ञान संकाय में कक्षा 12वीं बोर्ड परीक्षा में 500 नम्बरों में से 500 अंक प्राप्त करने वाली राजस्थान टॉपर होनहार छात्रा प्राची सोनी का गुरूवार को सम्मान समारोह हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि शिक्षामंत्री मदन दिलावर रहे। वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विज्ञान एवं प्रोद्यौगिकी स्वतंत्र प्रभार मंत्री संजय शर्मा ने की।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि ने छात्रा का साफा, माला एवं स्मृति चिह्न सहित प्रशस्ती पत्र देकर सम्मानित किया। मुख्य अतिथि ने कहा की इस गांव की माटी के संस्कार ऐसे है, जिससे पूरे भारत के लोगों का मान-सम्मान व गौरव बढाया है। 500 में 500 नम्बर लाना हम तो सपने में भी नहीं सोच सकते है। बोर्ड परीक्षा का पेपर बनाने वाले भी 500 में से 500 नम्बर ला सकते है, इसमें मुझे संदेह है।

मुख्य अतिथि ने मंच से घोषणा की प्राची सोनी की शिक्षा देश -विदेश तक राज्य सरकार की ओर से नि:शुल्क होगी। इसके साथ ही उच्च अंक प्राप्त करने वाले 33 विद्यार्थियो को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में पूर्व विधायक रामहेत सिंह यादव, जिला प्रमुख बलबीर छिल्लर, शिक्षा निर्देशालय निर्देशक बीकानेर सहित अन्य लोग मौजूद थे।