ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थान6 नहीं अब 2 घंटे में पूरा होगा दिल्ली से जयपुर का सफर, जल्द शुरू होने वाली है ये खास सर्विस

6 नहीं अब 2 घंटे में पूरा होगा दिल्ली से जयपुर का सफर, जल्द शुरू होने वाली है ये खास सर्विस

नितिन गडकरी ने ये घोषणा उदयपुर में 2,500 करोड़ रुइपये से अधिक के निवेश वाली 17 सड़क परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास समारोह के दौरान की।

6 नहीं अब 2 घंटे में पूरा होगा दिल्ली से जयपुर का सफर, जल्द शुरू होने वाली है ये खास सर्विस
Aditi Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,उदयपुरTue, 13 Feb 2024 06:23 PM
ऐप पर पढ़ें

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने जल्द ही दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे पर इलेक्ट्रिक बस सर्विस शुरू किए जाने का ऐलान किया है। खास बात ये है कि इससे दिल्ली से जयपुर का सफर केवल 2 घंटे में पूरा किया जा सकेगा। आम तौर पर दिल्ली से जयपुर जाने में लगभग 5-6 घंटे का समय लगता है। लेकिन अब इलेक्ट्रिक बस के जरिए ये सफर केवल 2 घंटे में पूरा किया जा सकेगा। नितिन गडकरी ने सोमवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस वे के किनारे बिजली के तार बिछाए जाएंगे। उन्होंने ये भी बताया कि इस इलेक्ट्रिक बस सेवा का किराया डीजल बस की तुलना में 30 प्रतिशत कम होगा।

नितिन गडकरी ने ये घोषणा उदयपुर में 2,500 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश वाली 17 सड़क परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास समारोह के दौरान की। इन परियोजनाओं में, बांदीकुई से जयपुर तक 1,370 करोड़ रुपये की लागत वाला 67 किलोमीटर का चार-लेन एक्सप्रेसवे नवंबर 2024 तक पूरा होने की उम्मीद है। गडकरी ने दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के महत्व पर भी बात की, जो एशिया में पहला है और  दुनिया में दूसरा पशु ओवरपास वाला एक्सप्रेस वे है। इस ओवरपास का उद्देश्य जानवरों की सुरक्षा सुनिश्चित करना है, उन्हें सड़क पार करने से रोकना है।

उन्होंने राजस्थान में हो रही प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य की सड़कें अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप हैं। इसके अलावा, गडकरी ने आश्वासन दिया कि राजस्थान के राष्ट्रीय राजमार्ग 2024 ते अंत तक अमेरिका के राष्ट्रीय राजमार्गों के बराबर हो जाएंगे। जानकारी के मुताबिक केंद्र सरकार  राजस्थान में एक्सप्रेस राजमार्गों के निर्माण में 60,000 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है, इसके अलावा 1,382 किलोमीटर लंबे दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस राजमार्ग का निर्माण 1 लाख करोड़ की लागत से किया जा रहा है।