ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News राजस्थानराजेश पायलट की पुण्यतिथि: पुष्पांजलि-सर्वधर्म प्रार्थना सभा; सचिन पायलट समेत 8 सांसद पहुंचे 

राजेश पायलट की पुण्यतिथि: पुष्पांजलि-सर्वधर्म प्रार्थना सभा; सचिन पायलट समेत 8 सांसद पहुंचे 

पूर्व केंद्रीय मंत्री राजेश पायलट की आज 24वीं पुण्यतिथि है। दौसा जिले के भडाना में राजेश पायलट के पुत्र सचिन पायलट समेत 8 सांसद और बड़ी संख्या में कांग्रेस विधायक, पूर्व मंत्री भी पहुंचे।

राजेश पायलट की पुण्यतिथि: पुष्पांजलि-सर्वधर्म प्रार्थना सभा; सचिन पायलट समेत 8 सांसद पहुंचे 
Prem Meenaलाइव हिंदुस्तान,जयपुरTue, 11 Jun 2024 03:37 PM
ऐप पर पढ़ें

पूर्व केंद्रीय मंत्री राजेश पायलट की आज 24वीं पुण्यतिथि है। किसानों के मसीहा के रूप में पहचान रखने वाले पायलट की आज ही के दिन दौसा जिले भंडाना गांव के पास जयपुर-आगरा हाईवे पर सड़क हादसे में मौत हो गई थी। राजेश पायलट के पुत्र सचिन पायलट समेत 8 सांसद और बड़ी संख्या में कांग्रेस विधायक पहुंचे। इस मौके पर सचिन पायलट ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि राजेश पायलट गांव से निकले। बहुत गरीबी देखी। संघर्ष किया और फौज में नौकरी की। अपनी काबिलियत औऱ मेहनत से राजनीति में अलग जगह बनाई।  सचिन पायलट के साथ दौसा सांसद मुरारी लाल मीणा, बाड़मेर सांसद उम्मेदाराम बेनीवाल, झुंझुनूं सांसद बिजेंद्र सिंह ओला, भरतपुर सांसद संजना जाटव, चूरू सांसद राहुल कस्वां, कुलदीप इंदौरा और भजनलाल जाटव पहुंचे। पूर्व मंत्री ममता भूपेश और पूर्व विधायक ओपी हुडला समेत बड़ी संख्या में जनप्रतिनिधि और गणमान्य लोग उपस्थित थे। 


सचिन पायलट ने अपने पिता को याद करते हुए कहा कि स्वर्गीय राजेश पायलट सभी 36 जातियों को साथ लेकर चलते थे और युवाओं के लिए प्रेरणा थे। उन्होंने खेत-खलिहान से लेकर देश की राजनीति में अहम भूमिका निभाई।पायलट ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि राजस्थान की जनता ने 11 सीटों पर भाजपा को हराकर स्पष्ट संदेश दिया है। उन्होंने कहा कि डबल इंजन की सरकारों को राजस्थान, उत्तरप्रदेश और हरियाणा में नकारा गया है और यह गठजोड़ की सरकार है, जिसमें किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है।

सचिन पायलट ने संसद में कांग्रेस के 147 सांसदों के निलंबन को जनता द्वारा नापसंद किए जाने की बात कही और भाजपा की 400 सीटों के दावे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि आज उनकी संख्या 200 के करीब है। नीट परीक्षा पर सरकार के स्पष्टीकरण से ना विपक्ष और ना ही आमजन संतुष्ट हैं। सचिन पायलट ने केंद्र सरकार को अहंकार त्यागकर समर्पण भाव से काम करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि पिछले 10 सालों में घमंड और अहंकार की सरकार चली है, जिसे जनता ने अब नकार दिया है। इस अवसर पर कई नवनिर्वाचित सांसद, विधायक और पूर्व विधायक मौजूद रहे।